ताज़ा खबर
 

पुरुष मरीज का यौन उत्पीड़न, सेक्स स्लेव भी बनाया! 53 साल की महिला गिरफ्तार

अमेरिका के इलिनियॉस के एक मेंटल हेल्थ सेंटर में काम करने वाली एक 53 वर्षीय महिला को मरीज के साथ यौन उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। महिला पर आरोप है कि उसने इलाज के लिए आए एक युवक को तीन वर्षों तक सेक्स गुलाम बना कर रखा।

सांकेतिक चित्र।

अमेरिका के इलिनियॉस के एक मेंटल हेल्थ सेंटर में काम करने वाली एक 53 वर्षीय महिला को मरीज के साथ यौन उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। महिला पर आरोप है कि उसने इलाज के लिए आए एक युवक को तीन वर्षों तक सेक्स गुलाम बना कर रखा। डेलीमेल की खबर के मुताबिक आरोपी महिला का नाम क्रिस्टी लेनहार्ड्त है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक क्रिस्टी लेनहार्ड्त इलिनियॉस के एल्गिन मेंटर हेल्थ सेंटर में मनोचिकित्सक के तौर पर काम करती थी। 2014 में बेनाहडैम हर्ट नाम के युवक को पागलपन के इलाज के लिए सेंटर में लाया गया था। बेनाहहैम हर्ट ने ही महिला के खिलाफ यौन दुराचार के आरोपों में मुकदमा दर्ज कराया था। हर्ट ने आरोप लगाया था लेनहार्ड्त ने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने किए उसे सेंटर से रिलीज करने में देरी की। शिकागो के रहने वाले हर्ट ने 2017 में महिला के खिलाफ इलिनियॉस के ह्यूमन सर्विस के डिपार्टमेंट में शिकायत दर्ज कराई थी। हर्ट ने अपनी शिकायत में चौंकाने वाले खुलासे करते हुए बताया था कि लेनहार्ड्त उसका कई तरह से यौन उत्पीड़न करती थी।

HOT DEALS
  • Lenovo K8 Plus 32 GB (Venom Black)
    ₹ 8499 MRP ₹ 11999 -29%
    ₹1275 Cashback
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 14210 MRP ₹ 30000 -53%
    ₹1500 Cashback
(Photo Source- Kane County Sheriff’s Office and Facebook)

हर्ट की वकील जो सीसेला ने स्थानीय शिकागो न्यूज स्टेशन में बताया कि आरोपी महिला उसके मुवक्किल के साथ सेक्स का वो हर एक तरीका आजमाती थी, जिसकी कल्पना की जा सकती है। वकील ने बताया कि एल्गिन मेंटल हेल्थ सेंटर में लेनहार्ड्त उसके मुवक्किल के लिए बतौर मनोचिकित्सक की भूमिका में थी। वकील ने यह भी बताया कि 2014 में उसके मुवक्किल को तब मेंटल हेल्थ सेंटर में भेजा गया था जब उसने एक पुलिस अधिकारी पर हमला कर दिया था और उसे पागल मान लिया गया था। सीसेला ने बताया कि महिला उसके मुवक्किल को बार-बार शरीरिक संबंध बनाने के लिए उकसाती थी और पहली बार उसने करीब 4 महीने के बाद शारीरिक संबंध बनाए थे।

वकील ने बताया कि उसके पास महिला को दोषी ठहराने वाले साक्ष्य मौजूद हैं, वह हर्ट को नग्न तस्वीरें ई-मेल करती थी। हर्ट की मां ने भी कहा कि उसके बेटे को मेंटल हेल्थ सेंटर से 6 से 12 महीने में रिलीज होना था लेकिन लेनहार्ड्त उसे रिलीज न करने के लिए बहाना बनाती रही। जुलाई 2017 में हर्ट को जब रिलीज किया गया और उसकी शिकायत दर्ज की गई तो लेनहार्ड्त को नौकरी से निकाल दिया गया। लोनहार्ड्त को गुरुवार (5 अप्रैल) को विकलांग व्यक्ति के साथ यौन दुराचार के 8 और आधिकारिक गड़बड़ियों के 6 मामले में आरोपी ठहराए जाने के बाद गिरफ्तार किया गया। आरोपी पर एक लाख डॉलर के बॉन्ड का जुर्माना भी लगाया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App