scorecardresearch

अमेरिका में Family Planning सेंटर पर गोलीबारी, 3 लोगों की मौत

अमेरिका के कोलोराडो शहर स्थित एक परिवार नियोजन केंद्र पर एक बंदूकधारी ने गोलीबारी की जिसमें एक पुलिस अधिकारी सहित कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई।

अमेरिका के कोलोराडो शहर स्थित एक परिवार नियोजन केंद्र पर एक बंदूकधारी ने गोलीबारी की जिसमें एक पुलिस अधिकारी सहित कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई। पूरा घटनाक्रम करीब पांच घंटे से भी ज्यादा समय तक चला। अधिकारियों के मुताबिक, शुक्रवार शाम बंदूकधारी कोलोराडो के कोलोराडो स्प्रिंग्स स्थित ‘प्लांड पैरेंटहुड’ क्लीनिक में घुसा और उसने कई घंटे तक वहां कर्मियों और मरीजों को बंधक बना कर रखा। इस दौरान पुलिस और बंदूकधारी के बीच गोलीबारी हुई।

करीब पांच-छह घंटे तक चले घटनाक्रम के बाद बंदूकधारी ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। अमेरिकी जनता के ‘थैंक्सगिविंग’ की छुट्टी का जश्न मनाने के महज एक दिन बाद हुई इस घटना में पांच पुलिस अधिकारियों सहित नौ लोग घायल हो गए। वाइट हाउस ने बताया कि अमेरिका की गृह सुरक्षा सलाहकार लीजा मोनाको ने अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को स्थिति से अवगत कराया।

अधिकारियों ने बताया कि अभी तक बंदूकधारी के मकसद का पता नहीं चल पाया है।
कोलोराडो स्प्रिंग्स के मेयर जॉन सूदर्स ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है। पुलिस ने बताया कि हमलावर के पास एक लंबी बंदूक थी और वह अपने साथ इमारत में कई ‘चीजें’ लेकर गया था जो विस्फोटक हो सकते हैं। एफबीआइ भी मामले की जांच में जुट गई है।

नेशनल एबॉर्शन फेडरेशन की अध्यक्ष व सीईओ विकी सापोर्टा ने कहा कि घटना में मारे गए लोगों के परिवारों और घायलों के प्रति हमारे दिल में संवेदना है। इस घटना से बखूबी निपटने वाले कानून प्रवर्तन अधिकारियों और हमले का सामना करते हुए मरीजों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तुरंत कार्रवाई करने वाले क्लीनिक के कर्मियों के बेहद शुक्रगुजार रहेंगे। उन्होंने कहा कि गर्भपात विरोधी कार्यकर्ताओं की ओर से एक भ्रामक वीडियो जारी करने के बाद गर्भपात करने वालों के खिलाफ नफरत फैलाने वाले बयानों और धमकियों में इजाफा हुआ है। ऐसी आशंका थी कि इस तरह की धमकियों के कारण हिंसक हमले होंगे और आज यह हुआ भी।

वीडियो जारी होने के बाद ‘प्लांड पैरेंटहुड’ के कम से कम चार क्लीनिक पर आगजनी की गई है। गर्भपात विरोधी संगठन ‘कंसंर्ड वुमेन फॉर अमेरिका’ की सीईओ और अध्यक्ष पेन्नी नैंसी ने कहा कि हम इस घृणित कृत्य की आलोचना करते हैं और उसके पीड़ितों के प्रति शोक जताते हैं। गर्भपात विरोधी संगठन होने के नाते किसी भी बेकसूर की जान लिए जाने के हम खिलाफ हैं, चाहे उसकी उम्र जो भी हो। हमारी प्रार्थनाएं पुलिस और कोलोराडो के अन्य लोगों के साथ हैं।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट