अमेरिका में 26 साल के भारतीय युवक को मारी गोली, पढ़ाई के लिए गया था कैलिफॉर्निया - 26-year-old indian Mubeen Ahmed from telangana has been shot in California - Jansatta
ताज़ा खबर
 

अमेरिका में 26 साल के भारतीय युवक को मारी गोली, पढ़ाई के लिए गया था कैलिफॉर्निया

दो महीने पहले ही उसकी पढ़ाई पूरी हुई थी और वह अस्थायी रूप से जॉब करने लगा था।

वह उस घर की खिड़की के पास पहुंचा तो अंदर से एक गोली चली, जो सीधा उसकी गर्दन में लगी और मौत हो गई। (संकेतात्मक तस्वीर)

अमेरिका के कैलिफोर्निया में रहने वाले तेलंगाना के एक 26 वर्षीय शख्स पर बीते रविवार (3 जून) को गोली चला दी गई। मुबीन अहमद नाम के इस युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमला उस जगह हुआ जहां युवक काम करता था। वह इस स्टोर में पार्ट टाइम काम करता था। रिपोर्ट्स में कहा गया है कि उस दिन मुबानी स्टोर पर काम कर रहा था, तभी कुछ अश्वेत मूल के लोग कुछ खरीदारी करने आए।

पीड़ित के पिता मुजीब अहमद ने कहा, “ग्राहकों और मुबीन के बीच किसी बात को लेकर बहस हो गई थी। इसके बाद उन्होंने मुबीन पर गोली चला दी। गोली मुबीन के पेट में लगी, जिससे उसके लिवर में क्षति पहुंची।” हादसे में वह बुरी तरह घायल हुआ है और उसका इलाज चल रहा है। मुबीन के पिता ने बताया कि मुबीन को कैस्ट्रो वैली के इडेन मेडिकल सेंटर में भर्ती कराया गया है। मुबीन अहमद 2015 से कैलिफॉर्निया में रह रहा था। वह अपनी मास्टर डिग्री करने वहां गया था। वह मूल रूप से तेलंगाना के संगारेड्डी का रहने वाला है। दो महीने पहले ही उसकी पढ़ाई पूरी हुई थी और वह अस्थायी रूप से जॉब करने लगा था।

इससे पहले, मई माह में भारतीय-अमेरिकी डॉक्टर रमेश कुमार अमेरिका के मिशिगन में एक कार में मृत पाए गए थे। 32 साल के रमेश कुनार की गोली मारकर हत्या की गई थी। इससे पहले मार्च माह में तेलंगाना के एयरोनॉटिकल इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोटला (32) की भी हत्या की गई थी। श्रीनिवास की अमेरिकी नौसेना के पूर्व कर्मी एडम डब्ल्यू.परिंटन ने 23 फरवरी को गोली मारकर हत्या कर दी थी। मार्च महीने में ही न्यूजर्सी में एक भारतीय महिला और उसके सात साल के बेटे को उनके घर में मृत पाया गया था। मृत महिला की पहचान एन. शशिकला (40) और बेटे की पहचान अनीश साई के रूप में हुई थी।

गिरफ्तार हुआ भीम आर्मी का संस्थापक चंद्रशेखर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App