ताज़ा खबर
 

पश्चिमी मैक्सिको की नदी से 12 शव बरामद, नशा तस्कर गिरोहों पर हत्या का शक

सभी शव मछली पकड़ने वाले नगर निगम के इलाके जमाय में मिले हैं।

Author ग्वादालाहारा (मैक्सिको) | September 30, 2016 2:25 PM
लेरमा नदी मेक्सिको की दूसरी सबसे लंबी नदी है।

पश्चिमी मैक्सिको की एक नदी से 12 शव बरामद हुए हैं। यह स्थान अमेरिकी पर्यटकों के बीच लोकप्रिय झील के करीब है। इन हत्याओं के पीछे दो नशा तस्कर गिरोहों का हाथ होने का संदेह है। जलिस्को राज्य के शीर्ष अभियोजक एडुआर्डो अलमागुएर ने बताया कि गुरुवार (29 सितंबर) को लेरमा नदी से तीन शव बरामद हुए थे, जबकि इस सप्ताह के पहले तीन दिनों में यहां से नौ शव बरामद हुए थे। अलमागुएर ने संवाददाताओं को बताया, ‘चपाला झील की ओर जाने वाली लेरमा नदी के मुहाने से 12 शव बरामद हुए हैं। हालांकि उन्होंने बरामद हुए इन तीन शवों की मौत के बारे में कुछ नहीं बताया है। उन्होंने बताया कि बरामद नौ शवों पर ‘हिंसा के निशान’ मौजूद हैं।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि बरामद दो शवों पर गोली के निशान पाए गए हैं, जबकि दो शव क्षत-विक्षत हालत में हैं।
अलमागुएर ने बताया, ‘यदि इन हत्याओं के पीछे दो आपराधिक गिराहों का हाथ है, तो उन्हें गिरफ्तार करना हमारा दायित्व है।’
उन्होंने बताया कि कि सभी शवों पर हिंसा के निशान मौजूद थे और सभी शव चपाला झील की ओर बहने वाली नदी के मुहाने पर पड़े पाए गए हैं। अलमागुएर ने बताया कि सभी शव मछली पकड़ने वाले नगर निगम के इलाके जमाय में मिले हैं। इस झील के आस पास प्रवासी समुदाय और सेवानिवृत्त लोग रहते हैं।

उल्लेखनीय है कि मैक्सिको के पश्चिमी राज्य में ‘जलिस्को न्यू जनरेशन’ के नशा तस्कर हिंसात्मक घटनाओं को अंजाम देते रहते हैं। यह मैक्सिको के सबसे शक्तिशाली एवं हिंसक आपराधिक समूहों में से एक है। अलमागुएर ने बताया कि इनमें से कुछ हत्याएं जलिस्को में हुई हैं और अन्य लोगों को पड़ोसी राज्य मिचोअकन में मारा गया है। नशा तस्करों के बीच यह करीब एक दशक से हिंसा और अपराध गतिविधियों वाला दूसरा सबसे प्रमुख स्थान है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App