ताज़ा खबर
 

WHO विशेषज्ञ ने कहा- भारत में अब भी बना हुआ है जोखिम

कहा कि दक्षिण एशिया में, न केवल भारत में बल्कि बांग्लादेश और पाकिस्तान में, घनी आबादी वाले दूसरे देशों में महामारी का रूप विस्फोटक नहीं हुआ है। लेकिन ऐसा होने का खतरा हमेशा बना हुआ है।

Author न्यूयार्क | Updated: June 7, 2020 5:19 AM
COVID-19कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। (PTI Photo)

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के एक प्रमुख विशेषज्ञ ने कहा है कि भारत में कोरोना महामारी को लेकर स्थिति अभी ‘विस्फोटक’ नहीं है, लेकिन देश में मार्च में लागू पूर्णबंदी हटाने की तरफ बढ़ने के साथ इस तरह का जोखिम बना हुआ है।
डब्लूएचओ के स्वास्थ्य आपात स्थिति कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक मिशेल रियान ने शुक्रवार को कहा कि भारत में कोरोना के मामलों की संख्या दोगुने होने का समय इस स्तर पर करीब तीन सप्ताह है। उन्होंने जिनेवा में कहा कि इसलिए महामारी की दिशा कई गुना बढ़ने वाली नहीं है लेकिन यह अब भी बढ़ रही है।

रियान ने कहा कि भारत के विभिन्न हिस्सों में महामारी का असर अलग-अलग है और शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों के बीच इसमें अंतराल है। उन्होंने कहा कि दक्षिण एशिया में, न केवल भारत में बल्कि बांग्लादेश और पाकिस्तान में, घनी आबादी वाले दूसरे देशों में महामारी का रूप विस्फोटक नहीं हुआ है। लेकिन ऐसा होने का खतरा हमेशा बना हुआ है। रियान ने कहा कि जब महामारी पनपती है और समुदायों के बीच पैठ बना लेती है तो यह किसी भी समय अपना प्रकोप दिखा सकती है जैसा कई स्थानों पर देखा गया। उन्होंने कहा कि भारत में देशव्यापी पूर्णबंदी जैसे कदमों ने संक्रमण को फैलने की रफ्तार कम रखी है लेकिन देश में गतिविधियां शुरु होने के साथ मामले बढ़ने का खतरा बना हुआ है।

रियान ने कहा कि भारत में उठाए गए कदमों का निश्चित रूप से संक्रमण फैलने की रफ्तार कम करने की दिशा में असर हुआ और अन्य बड़े देशों की तरह भारत में भी गतिविधियां शुरू होने, लोगों की आवाजाही फिर से आरंभ होने के बाद महामारी के प्रकोप दिखाने का जोखिम हमेशा बना हुआ है। भारत कोविड-19 महामारी के मामले में इटली को पीछे छोड़कर दुनिया का छठा सबसे बुरी तरह प्रभावित देश बन गया है। इसके बाद देश में अब तक संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 2,36,657 हो गई है तथा मरने वालों का आंकड़ा 6,642 पर पहुंच गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 भारत-चीन पूरी जांच करें तो अमेरिका से ज्यादा मामले आएंगे : ट्रंप
2 चीन को कोरोना पर गलत सूचना के लिए भुगतने होंगे दुष्परिणाम : ट्रंप