ताज़ा खबर
 

‘रुपया मार्गदर्शक मंडल में शामिल होने से बस चंद कदम दूर’, सोशल मीडिया पर लोग ऐसे ले रहे मजे

कुछ विशेषज्ञ रुपए के कमजोर होने की दूसरी अहम वजह भारत का तेल आयात बिल बढ़ना भी बता रहे हैं। तेल आयात करने के मामले में भारत दुनिया में तीसरे नंबर पर है। अमेरिका की ओर से ईरान पर दोबारा प्रतिबंध लगाए जाने के बाद से भारत का तेल बिल तेज़ी के साथ बढ़ा है।

मंगलवार को एक डॉलर की कीमत 70 रुपये के पार पहुंच गई। उसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स सरकार की जमकर चुटकी ले रहे हैं। इस तस्वीर को शेयर करते हुए बीजेपी समर्थकों का भी मजाक उड़ाया जा रहा है। फोटो सोर्स – (ट्विटर @Radheyshyam999)

मंगलवार (14-8-2018) को डॉलर के मुकाबले रुपये में भारी गिरावट दर्ज की गई। पहली बार अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 70.07 के सर्वकालिक निचले स्तर पर पहुंच गया। आर्थिक विशेषज्ञों का कहना है कि रुपये में डॉलर के मुकाबले आई इस गिरावट के पीछे तुर्की की मुद्रा ‘लीरा’ में आई गिरावट है। ‘लीरा’ में बीते सोमवार को 11 फीसदी गिरावट दर्ज हुई थी। विशेषज्ञों का कहना है कि तुर्की संकट की वजह से ही दुनिया की अन्य अर्थव्यवस्थाओं पर नकारात्मक असर पड़ा है। भारत में रुपयों की कीमत में रिकॉर्ड गिरावट को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रियाओं की बाढ़ आ गई है। एक से बढ़कर एक फनी जोक्स और MEMES सोशल मीडिया पर शेयर किये जा रहे हैं। लोग केंद्र सरकार को लगातार निशाने पर ले रहे हैं।

अनित झा नाम के एक यूजर ने इसपर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि ‘मोदी जी की कड़ी मेहनत और अथक प्रयास से.. रुपया मार्गदर्शक मंडल में शामिल होने की उम्र सीमा से चंद कदम की दुरी पर..!’ बसंत राज नाम के और यूजर ने लिखा कि ‘इधर मोदी गोबर नाले में ही फंस कर रह गए, उधर एक डॉलर के मुकाबले रुपया 70 के पार हो गया।’

HOT DEALS
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹1485 Cashback
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 12999 MRP ₹ 30999 -58%
    ₹1500 Cashback

कई लोगों ने इसपर फनी MEMES भी बनाए हैं।

आपको बता दें कि रुपए में आई इस गिरावट के लिए भारत के व्यापारिक घाटे को भी जिम्मेदार बतलाया जा रहा है। जून में भारत का व्यापारिक घाटा पांच सालों में सबसे ज्यादा यानी 16.6 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया। कुछ विशेषज्ञ रुपए के कमजोर होने की दूसरी अहम वजह भारत का तेल आयात बिल बढ़ना भी बता रहे हैं। तेल आयात करने के मामले में भारत दुनिया में तीसरे नंबर पर है। अमेरिका की ओर से ईरान पर दोबारा प्रतिबंध लगाए जाने के बाद से भारत का तेल बिल तेज़ी के साथ बढ़ा है। आर्थिक विशेषज्ञों का कहना है कि रुपए में गिरावट का असर महंगाई पर मामूली रुप से पड़ सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App