X

‘गटर से गैस पर एक नोबल तो बनता है’, पीएम मोदी की स्पीच पर लोग ले रहे मजे

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते शुक्रवार को वर्ल्ड बायोफ्यूल डे पर अपने संबंधोन के दौरान एक ऐसे शख्स का जिक्र किया था जो नाले से निकलने वाली गैस से चाय बनाता था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बीते शुक्रवार (10 अगस्त) को वर्ल्ड बायोफ्यूल डे (विश्व जैवईंधन दिवस) पर अपने संबंधोन में एक शख्स के बारे में जिक्र किया था जो गटर के गैस से चाय बनाता था। पीएम ने इस शख्स के बारे में बताते हुए आगे कहा था कि ‘मैंने एक अखबार में पढ़ा था कि एक शहर में नाले के पास एक व्यक्ति चाय बेचता था। उस व्यक्ति के मन में विचार आया कि क्यों ना गंदी नाले से निकलने वाली गैस का इस्तेमाल किया जाए। उसने एक बर्तन को उल्टा कर उसमें छेद कर दिया और पाइप लगा दिया।

अब गटर से जो गैस निकलती थी उससे वो चाय बनाने का काम करता था।’ पीएम के इस बयान के बाद अब सोशल मीडिया पर लोग इसका मजाक बना रहे हैं। तरह-तरह के फनी कमेंट्स और MEMES भी इसे लेकर शेयर किये जा रहे हैं। ट्विटर पर रिया कुलकर्णी ने इसपर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि ‘दुनिया की पहली “प्लास्टिक सर्जरी” भगवान गणेश की हुई थी, यहाँ तक सही था जितनी शिक्षा उतनी बुद्धि…लेकिन “गटर से गैस” की खोज करने के लिए मोदी जी को एक “नोबेल पुरस्कार” तो बनता है।’

एक यूजर ने इसपर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि ‘मोदी जी की गटर से गैस वाली, कहानी से लोगों को बहुत प्रेरणा मिली अब make in India के अंतर्गत, जिओ की नई कार आ रही है, उसकी खास बात ये है कि वो, पेट्रोल, डीजल, मीथेन या बैटरी पर नही, बल्कि पकोड़े और चाय से बनी वायु से चलती है!’ एक यूजर ने इसपर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि ‘जब से पता चला है गटर की नाली से गैस निकलता है भक्तों ने नालियों के पास डेरा जमाना चालू कर दिया है।’






















 

सुनिए पीएम ने क्या कहा था:

 

Outbrain
Show comments