ताज़ा खबर
 

आईपीएल में यूपी-ब‍िहार की टीम उतारने के ल‍िए योगी आद‍ित्‍य नाथ और नीतीश कुमार ने म‍िलाए हाथ, बेटे को कोच बनवाने के लि‍ए लालू भी हुए सक्रि‍य

नो सीरियस न्‍यूज: इस खबर का सच से कोई लेना-देना नहीं है। इसे बस मजे लेने के लिए पढ़ें।

ब‍िहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (बाएं) और यूपी के सीएम योगी आद‍ित्‍य नाथ।

अगले साल आईपीएल में एक और नई टीम खेल सकती है। इस फटाफट खेल के मानच‍ित्र पर यूपी-ब‍िहार की सशक्‍त मौजूदगी के ल‍िए राजनीतिक पहल की जा रही है। दोनों राज्‍यों के मुख्‍यमंत्री इस बहाने नजदीक आ रहे हैं। यूपी के सीएम योगी आद‍ित्‍य नाथ और ब‍िहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने इस मसले पर प्रभावी कदम उठाने को लेकर स‍िद्धांत तौर पर सहमति दे दी है। यह सहमति द‍िल्‍ली हवाईअड्डे पर दोनों नेताओं की अचानक हुई मुलाकात में बनी।

सूत्र बताते हैं क‍ि अपनी-अपनी राजधानी लौट कर दोनों मुख्‍यमंत्रि‍यों ने अफसरों से आईपीएल टीम बनाने से संबंध‍ित मसौदा तैयार करने के ल‍िए कहा है। नीतीश कुमार इसमें कुछ ज्‍यादा ही सक्रि‍य हैं, क्‍योंक‍ि उन्‍हें उम्‍मीद है क‍ि क्रि‍केट के बहाने भाजपा से टूटी राजनीतिक दोस्‍ती जुड़ने का रास्‍ता भी खुल सकता है।

बि‍हार के उपमुख्‍यमंत्री और भूतकाल में क्र‍िकेट खेल चुके तेजस्‍वी प्रसाद यादव को जैसे ही मुख्‍यमंत्री की योजना की भनक लगी, उन्‍होंने तुरंत अपने प‍िता लालू प्रसाद यादव के आगे ज‍िद ठान दी क‍ि उन्‍हें प्रस्‍ताव‍ित आईपीएल टीम का कोच बनना है। बेटे की ज‍िद के आगे लालू हार गए। उन्‍होंने नीतीश कुमार से बात करने का आश्‍वासन देकर तेजस्‍वी को मनाया।

इस बीच, सूत्र बताते हैं क‍ि अध‍िकार‍ियों ने जो मसौदा तैयार क‍िया है, उसमें ख‍िलाड़ि‍यों के ल‍िए जात‍ि के आधार पर आरक्षण रखने का भी प्रावधान क‍िया है। बि‍हार सरकार के अफसरों ने यूपी के सीएम का रुतबा और व‍िधानसभा में उनका संख्‍याबल देखते हुए इस मामले में अंतिम फैसला उन्‍हें ही करने देने का भी प्रस्‍ताव रखा है।

बताया जाता है क‍ि यूपी के अफसरों को तेजस्‍वी यादव की योजना की भनक लग गई है। इसके बाद उन्‍होंने सीएम को प्रस्‍ताव द‍िया है क‍ि ऐसा प्रावधान रखा जाए ज‍िसके तहत चारा घोटाले या कि‍सी अन्‍य घोटाले में सजा प्राप्‍त नेता या उनके खानदान से जुड़ा कोई शख्‍स क‍िसी रूप में आईपीएल टीम से नहीं जुड़ सकेगा। सूत्र बताते हैं क‍ि योगी आदि‍त्‍यनाथ अफसर के इस प्रस्‍ताव से सहमत हैं।

टीम के लि‍ए फ्रेंचाइजी पब्‍ल‍िक-प्राइवेट पार्टनरश‍िप आधार पर चुनी जाएगी। प्राइवेट पार्टनर से क्र‍िकेट व‍िकास कोष में बोली के आधार पर एक रकम जमा कराई जाएगी। सबसे ज्‍यादा रकम जमा करने वाले के साथ साझेेेेदारी में सरकार टीम बनाएगी। इस बारे में मसौदे को अंत‍िम रूप देने के लि‍ए जून के आखिरी हफ्ते में दोनों राज्‍यों के अफसर म‍िलेंगे। अगस्‍त तक इस बारे में अंत‍िम ऐलान कर द‍िया जाएगा। तो अगले आईपीएल का रोमांच और बढ़ने वाला है। आप अभी से इसके लि‍ए तैयार हो जाइए।

(यह खबर आपको हंसने-हंसाने के लिए कोरी कल्‍पना के आधार पर लिखी गई है। इस खबर में कोई सच्चाई नहीं है। ऐसी अन्य खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें )

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App