ताज़ा खबर
 

अब बीफ का विरोध नहीं करेगी बीजेपी, शेख हसीना के समझाने पर बदला नरेंद्र मोदी का मन

नो सीरियस न्‍यूज: इस खबर का सच से कोई लेना-देना नहीं है। इसे बस मजे लेने के लिए पढ़ें।

Author April 9, 2017 9:47 PM
बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। Source-ANI)

देश में इतनी चर्चा तो सलमान खान और राहुल गांधी की शादी पर नहीं हुई जितनी बीफ को लेकर हुई है। भाजपा के नेता चाहते हैं कि बीफ पर बैन लगे और देश में बीफ बिकना बंद हो जाए। लेकिन अब भाजपा बीफ का विरोध नहीं करेगी। भाजपा बीफ को ठीक वैसी ही मौन स्वीकृति देगी जैसे गौ रक्षकों को दे रखी है। आप सोच रहे होंगे अचानक यह कैसे हो गया। तो बता दें ऐसा हुआ है बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना के कारण। हसीना ने पीएम मोदी का हृदय परिवर्तन करा दिया।

पीएमओ के सूत्रों की मानें तो पीएम मोदी अपने बांग्लादेशी समकक्ष से बेहद प्रभावित हैं। इसी वजह से वह एक आम आदमी की तरह बिना ट्रैफिक रुकवाए उनका स्वागत करने एयरपोर्ट भी पहुंच गए थे।हसीना के लिए पीएम मोदी फूल भी लेकर गए। इस पर कई लोगों का कहना है कि मोदी बांग्लादेश में भाजपा का प्रचार करना चाहते हैं इसलिए बांग्लादेश की पीएम को कमल का फूल दिया गया। जब शाम को हसीना के लिए दस्तरखान सजाया गया तो चर्चा बीफ पर होने लगी। बातचीत क्या हुई, यह तो पता नहीं चला लेकिन पीएम मोदी ने डिनर के बाद जो बयान दिया वह हैरान करने वाला था। उन्होंने कहा कि देश में बीफ की उपलब्धता सस्ते और प्रचूर मात्रा में सुनिश्चित कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि आखिर बीफ भी महज एक खाद्य पदार्थ है और इसे लेकर किसी तरह का विरोध नहीं होना चाहिए।

कुछ लोगों का कहना है कि मोदी जी मेहमानों का सम्मान करते हैं इसलिए उन्होंने ऐसा किया। भाजपा प्रवक्ता ने सफाई दी कि हमारे संस्कारों में है अतिथि देवो भव। यही कारण है कि हसीना जी के समझाने से मोदी जी का मन सहज ही बदल गया।

पीएम मोदी के बयान का संकेत समझते हुए तमाम भाजपा नेताओं ने बीफ बैन के विरोध में बयान देना शुरू कर दिया। इसके बाद अपने आप को मुस्लिमों का रक्षक कहने वाले मुलायम सिंह यादव और असदुद्दीन ओवैसी मैदान में कूद पड़े। ओवैसी ने मांग की कि वो चाहते हैं कि भाजपा जो बात कह रही है वो लिखकर दे। हम ऐसे यकीन नहीं कर सकते। मुलायम ने जो कहा वो हम आपको बता नहीं सकते क्योंकि उनकी बात समझने के लिए विशेषज्ञ की जरूरत होती है और इस काम के लिए रखा गया विशेषज्ञ आज छुट्टी पर है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App