ताज़ा खबर
 

जब संसद में ठहाके लगाने लगे पीएम नरेंद्र मोदी, देखें मजेदार वीडियो

साल 2015 में एक बार संसद में हुकुमदेव किसानों के हालात, देश की आर्थिक हालत और गांवों की स्थिति को लेकर अपने भाषण में विपक्ष पर जमकर शब्द बाण चलाए थे। चुटीले अंदाज में उनके भाषण ने हमेशा गंभीर रहने वाले पीएम नरेंद्र मोदी को भी हंसने पर मजबूर कर दिया था।

पीएम नरेंद्र मोदी। (पीटीआई फाइल फोटो)

संसद का मॉनसून सत्र बुधवार (18 जुलाई) से शुरू हो गया है। संसद का पहला दिन हंगामेदार रहा। देश की सबसे बड़ी पंचायत में यूं तो गंभीर मुद्दों पर चर्चा की जाती है लेकिन कई बार इसके अंदर से हंसी-ठहाकों की गूंज भी सुनाई पड़ती है। संसद में कई ऐसे सांसद हैं जिनके भाषणों ने अंदर के गंभीर माहौल को हंसी की गूंज में बदल दिया है। इन सासंदों की लिस्ट में हुकुमदेव नारायण यादव का नाम भी आता है। ठेठ अंदाज में खड़े होकर भाषण देने वाले हुकुमदेव नारायण यादव की बातें सुनकर कई बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी संसद में ठहाके लगा चुके हैं।

साल 2015 में एक बार संसद में हुकुमदेव किसानों के हालात, देश की आर्थिक हालत और गांवों की स्थिति को लेकर अपने भाषण में विपक्ष पर जमकर शब्द बाण चलाए थे। चुटीले अंदाज में उनके भाषण ने हमेशा गंभीर रहने वाले पीएम नरेंद्र मोदी को भी हंसने पर मजबूर कर दिया था। भाषण के दौरान सांसद ने कहा कि नौ महीने में तो बच्चा पैदा हो जाता है, लेकिन क्या नौ महीने में जन्मा बच्चा पैदा कर सकता है। खुद को किसान बतलाते हुए हुकुमदेव नारायण यादव ने कहा था कि अगर किसी किसान को आंखों पर पट्टियां बांध कर उसे इंडिया गेट पर खड़ा कर दिया जाए तो इंडिया गेट को देखकर वो चौंक जाएगा। उन्होंने कहा कि आंदोलन के दौरान विपक्षी की सरकार उनपर लाठियां चलवाई। आज भी जब कभी पूरवइया चलती है तो उनकी हड्डियों में दर्द होता है।
देखें वीडियो :

आपको बता दें कि हुकुमदेव नारायण यादव बिहार के मधुबनी से सासंद हैं। समाजवादी संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी से शुरुआत कर वह सोशलिस्ट पार्टी और फिर भारतीय लोक दल में रहे। इसके बाद वह जनता पार्टी में शामिल हो गए। 1960 में यादव पहली बार ग्राम प्रधान चुने गए जबकि 1967 में पहली बार विधायक बने। 1977 में वो पहली बार सांसद चुने गए। हुकुमदेव नारायण यादव 1993 में भाजपा में शामिल हुए। अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में भी यादव केंद्र में मंत्री रह चुके हैं। हुकुम देव नारायण को लोकसभा में चुटीले अंदाज में अपनी बात रखने के लिए जाना जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App