भारत बनाम पाकिस्‍तान, चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 फाइनल: महामुकाबले पर बीवियों को सख्त हिदायत, डिस्टर्ब किया तो भुगतने होंगे ये परिणाम - Champions Trophy 2017: husband makes strict instructions, if you disturb me in india vs pakistan match you should face consequences - Jansatta
ताज़ा खबर
 

भारत बनाम पाकिस्‍तान, चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 फाइनल: महामुकाबले पर बीवियों को सख्त हिदायत, डिस्टर्ब किया तो भुगतने होंगे ये परिणाम

Champions Trophy 2017: पाकिस्तान पहली बार आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचा है।

Author June 18, 2017 5:31 PM
भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली। (Photo source – Indian Express)

भारत-पाकिस्तान के बीच आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल खेला जा रहा है। मैच से पहले पत्नी पीड़ित संघ ने इस मैच के लिए एक गाइडलाइन जारी की है। गाइडलाइन पत्नियों के लिए जारी की गई है। पत्नी पीड़ित संघ कौनसी गाइडलाइन जारी की है वो आपको बाद में बताएंगे, पहले आपको बताते हैं, अगर ये गाइडलाइन का उल्लंघन किया गया तो पत्नियों को क्या सजा मिलेगी।

1. नियमों को तोड़ने पर पत्नियों को 24 दिनों तक घर में आलू की सब्जी नहीं बनानी होगी।
2. पत्नियां के सभी सीरियल्स पर रोक होगी।
3. पत्नियों को एक महीने तक अपने पतियों के पैर दबाने होंगे।
4. नियम टूटे तो पत्नियां दो महीने तक अपने पतियों से यह नहीं पूछ सकती कि ऑफिस में फोन क्यों नहीं उठाया।
5. नियम टूटा तो पति ऑफिस से लेट आ सकता है।
7. इतना ही कई पतियों को घर में कपड़े धोने और बर्तन साफ ना करने की भी छूट मिलेगी।
7. नियम टूटने पर एक साल तक पत्नियां अपने पति से शॉपिंग के लिए नहीं कह सकती।

इन नियमों के बाद कई पति बहुत ज्यादा खुश हैं। एक लोकल टीवी के मुताबिक इस फतवे के नियमों को जानकार अरूणाचल के एक गांव में रहने वाले व्यक्ति को हार्ट अटैक आ गया। अब आपको बताते हैं पतियों की एसोसिएशन ने पत्नियों के लिए क्या नियम बनाए हैं।

1. भारत-पाकिस्तान के बीच मैच शुरू होने के बाद घर के टीवी का रिमोट पति के हाथों में होगा।
2. मैच के दौरान अगर पत्नी का कोई रिश्तेदार या उसके घर वालों में से मर भी जाता है तो भी पति को उसके साथ जाने की जरूरत नहीं है।
3. पत्नी को उसी टीम को सपोर्ट करना होगा, जिसे पति कर रहा होगा।
4. मैच के दौरान पत्नियों को अपना मुंह ठीक उसी तरह बंद करके रखना होगा, जिस तरह मालिक के जाने के जाने के बाद घर का ताला।
5. पतियों को मैच का रिपीट और हाईलाइट भी देखने की इजाजत होगी।
6. चाहे कुछ भी हो जाए, पत्नियां टीवी के आगे से नहीं जा सकती। पत्नियों को टीवी के नीचे से रेंगकर जाना होगा।
7. मैच के दौरान पत्नियां किसी तरह का फालतू का सवाल नहीं पूछ सकती, जैसे की कमेंट्री कर रहे पुराने खिलाड़ी क्यों नहीं खेल रहे।
8. मैच के दौरान पत्नियों को हर बात पर हंसना होगा। बस भारत का विकेट गिरने पर आंसू बहाने होंगे।

(यह खबर आपको हंसने-हंसाने के लिए कोरी कल्‍पना के आधार पर लिखी गई है। इस खबर में कोई सच्चाई नहीं है।)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App