ताज़ा खबर
 

पत्नी के पांव की बनावट से तय होता है पति का भविष्य, जानें समुद्र शास्त्र की बातें

समुद्र शास्त्र के मुताबिक जिस स्त्री के पैर के तलवों के गद्देदार हिस्से पर कोई रेखा पैर की अंगुलियों की तरफ ऊपर गई हुई होती है, वह अपने पति का काफी सम्मान करती है।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

समुद्र शास्त्र में पति-पत्नी के रिश्ते पर तमाम बातें लिखी गई हैं। इस शास्त्र में उन बातों का विस्तार से उल्लेख किया गया है जो पति-पत्नी के रिश्ते का भविष्य तय करती हैं। समुद्र शास्त्र के मुताबिक, पत्नी के पांव की बनावट से पति का भविष्य निर्धारित होता है। दरअसल अलग-अलग महिलाओं के पांवों की बनावट अलग-अलग होती है। और समुद्र शास्त्र इसी बिंदु पर आधारित है कि शरीर के प्रत्येक अंग की बनावट और निशान से व्यक्ति का स्वाभाव तय होता है। इसके मुताबिक यदि पत्नी के पांव के तलवे पर चक्र या ध्वज का निशान हो तो उसके पति को काफी सुख मिलता है। ऐसी महिला का पति राज सुख को प्राप्त करता है और उसे किसी भी तरह की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ता।

समुद्र शास्त्र के मुताबिक जिस स्त्री के पैर के तलवों के गद्देदार हिस्से पर कोई रेखा पैर की अंगुलियों की तरफ ऊपर गई हुई होती है, वह स्त्री अपने पति का काफी सम्मान करती है। ऐसी स्त्री को पति की सेवा में भी आनंद आता है। ऐसी पत्नी से जाहिर तौर पर पति बेहद प्रसन्न रहते हैं। वहीं ऐसी स्त्री जिसकी अनामिका अंगुली की लंबाई, अंगूठे और तर्जनी अंगुली से बड़ी होती है, वे पति के जीवन में कई परेशानियां लेकर आती हैं। शास्त्र के अनुसार, ऐसी महिलाओं की वजह से पति को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

यदि स्त्री के पांव की तर्जनी अंगुली दूसरी अंगुलियों से बड़ी हो तो ऐसी महिलाएं पति की काफी मदद करती हैं। शास्त्र के मुताबिक, ये महिलाएं अपने पति के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलती हैं। ये अपने पति का पूरी तरह से सहयोग करती हैं। ऐसे दंपत्तियों का जीवन काफी प्रेम पूर्वक व्यतीत होता है। वहीं, यदि स्त्री के पैर के तलवों पर कमल या छत्र का निशान हो तो पति के लिए काफी शुभ रहता है। ऐसी स्त्रियों के पति राजनीति में काफी सफलता हासिल करते हैं।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on May 1, 2018 7:44 pm

More on this story