ताज़ा खबर
 

किन लोगों को होती है एकाग्रता की समस्या, ये हैं ज्योतिषी उपाय

ज्योतिष के अनुसार यदि व्यक्ति की कुंडली में चंद्रमा के साथ शनि हो तो उस व्यक्ति को बहुत परेशानी होती है। इसके अलावा बुध ग्रह भी एकाग्रता बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है।

अगर व्यक्ति की कुंडली में चंद्रमा की स्थिति ठीक रहती है तो व्यक्ति को मानसिक परेशानी नहीं होती है।

एकाग्रता मन से जुड़ा हुआ मामला है, इसके लिए चंद्रमा की सबसे ज्यादा भूमिका होती है। इसके अलावा कुंडली के तत्व भी एकाग्रता में भूमिका निभाते हैं, कभी-कभी कुंडली के भाव भी एकाग्रता को प्रभावित करते हैं। अगर व्यक्ति की कुंडली में चंद्रमा की स्थिति ठीक रहती है तो व्यक्ति को मानसिक परेशानी नहीं होती है। यदि व्यक्ति की कुंडली में चंद्रमा खराब स्थिति में हो तो एकाग्रता होने में परेशानी होती है। चंद्रमा को मन का स्वामी कहा जाता है। एकाग्रता बनाएं रखने के लिए चंद्रमा के अलावा अन्य ग्रह भी जिम्मेदार माने जाते हैं। कुंडली में चंद्रमा के साथ बुध का होना व्यक्ति के लिए अच्छा माना जाता है। कहा जाता है अगर कुंडली में चंद्रमा के साथ बुध होता है तो व्यक्ति को मानसिक परेशानी नहीं होती है। ज्योतिष के अनुसार यदि व्यक्ति की कुंडली में चंद्रमा के साथ शनि हो तो उस व्यक्ति को बहुत परेशानी होती है। इसके अलावा बुध ग्रह भी एकाग्रता बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। बुध ग्रह को बुद्धि का कारक माना जाता है। इससे मन और बुद्धि पर काबू पाया जा सकता है।

कब एकाग्रता में समस्या होती है – जब कुंडली जल या वायु तत्व प्रधान हो, जब चंद्रमा राहु या केतु से पीड़ित हो। मन चंचल हो जाता है। जब चंद्रमा कुंडली में अकेला हो, जब केंद्र स्थान खाली हो, जब जन्म मूलांक, 2, 4, 7 या 8 हो तो ऐसे लोगों को भी एकाग्रता में समस्या आती है।

एकाग्रता कब होती है अच्छी – जब कुंडली अग्नि या पृथ्वी तत्व प्रधान हो, कुंडली में चंद्रमा मजबूत हो, केंद्र स्थानों में मजबूत बृहस्पति हो, या जन्म मूलांक 1, 5, 7 या 9 हो।

एकाग्रता को बेहतर करने के लिए उपाय – प्रात: जल्दी उठने की कोशिश करें, स्नान के जल में थोड़ा सा गुलाब जल मिलाएं, प्रात:काल 108 बार गायत्री मंत्र का जाप करें। आहार को शुद्ध रखें, दूध वाली चीजें जरूर ग्रहण करें। रात में सोने से पहले पांच-दस मिनट ध्यान करें।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on December 18, 2018 3:00 pm