ताज़ा खबर
 

किन लोगों को जीवन में मिलता है मान-सम्मान, जानिए हथेली को देखकर

इस पर्वत पर तिल हो तो व्यक्ति को अपयश मिल सकता है, इस पर्वत पर वलय हो तो व्यक्ति को जीवन में संघर्ष करना पड़ता है। साथ ही स्वास्थ्य की समस्याएं भी हो जाती है।

इस पर्वत पर तिल हो तो व्यक्ति को अपयश मिल सकता है,

हाथ में अनामिका उंगली के नीचे का स्थान सूर्य पर्वत का होता है, इस स्थान से सूर्य की स्थिति देखी जाती है। इसी स्थान से राजकीय सेवा का ज्ञान होता है, व्यक्ति के जीवन में नाम यश कितना होगा, सूर्य पर्वत से ही पता चलता है। व्यक्ति का शारीरिक स्वास्थ्य भी इस पर्वत से पता चलता है। इस पर्वत का उठा होना हमेशा लाभकारी होता है, इससे व्यक्ति को जीवन में खूब मान-सम्मान मिलता है। अगर इस पर्वत पर एक सीधी रेखा हो तो व्यक्ति को राज्य से लाभ होता है, राजकीय सेवा के बेहतर योग बनते हैं। इस पर्वत पर दोहरी-रेखा हो तो व्यक्ति उन्नति करता है, व्यक्ति जीवन में बुलंदियों पर पहुंचता है।

सूर्य पर्वत पर अलग-अलग चिन्ह – इस पर्वत पर तिल हो तो व्यक्ति को अपयश मिल सकता है, इस पर्वत पर वलय हो तो व्यक्ति को जीवन में संघर्ष करना पड़ता है। साथ ही स्वास्थ्य की समस्याएं भी हो जाती है, यहां पर क्रॉस का होना भी अच्छा नहीं होता है, ये आंखों और ह्रदय में समस्या पैदा करता है। इस पर्वत पर त्रिभुज हो तो व्यक्ति की ख्याति बढ़ती है, इससे व्यक्ति को अपार नाम और यश मिलता है।

हाथ में सूर्य का पर्वत खराब हो तो – सुबह अपनी दोनों हथेलियों को जरूर देखें, अनामिका अंगुली से कंठ पर तिलक लगाएं। अनामिका अंगुली में तांबे का छल्ला धारण करें, रोजाना 108 बार गायत्री मंत्र का जाप करें। नार्नेट रत्न जरूर धारण करें।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और लिंक्ड इन पर जुड़ें

First Published on November 26, 2018 3:29 pm