ताज़ा खबर
 

तुला राशिफल 2018: इस साल करियर में मिलेगी सफलता, कारोबारियों को मिलेगा मुनाफा

Tula Rashifal 2018, Horoscope in Hindi:विदेशी कारोबार से जुड़े जातक को अच्छा लाभ प्राप्त होगा, काम के सिलसिले में विदेश यात्रा संभव है।

बच्चों का पढ़ाई में प्रदर्शन शानदार रहेगा, प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी।

तुला राशिफल 2018 के अनुसार तुला राशि के जातकों के लिए यह साल काफ़ी महत्वपूर्ण है। कॅरियर के लिहाज से यह साल बहुत ही बढ़िया रहने वाला है, कार्यस्थल पर बेहतर मौक़े मिलेंगे, सीनियर आपके काम की सराहना करेंगे। आपकी आय में वृद्धि होगी, पदोन्नती भी हो सकती है, नौकरी बदलने की भी सम्भावना है। जनवरी से मार्च माह के बीच में व्यापारियो को अच्छा मुनाफ़ा होने वाला है, आय के कुछ नए स्रोत भी बनेंगे। कला, अभिनय, डिज़ाइनिंग, फ़ैशन, आर्किटेक्ट (वास्तुकार), प्रिटिंग, मीडिया और कॉस्मेटिक से जुड़े कारोबार में बेहतर लाभ प्राप्त होगा। विदेशी कारोबार से जुड़े जातक को अच्छा लाभ प्राप्त होगा, काम के सिलसिले में विदेश यात्रा संभव है। बड़े निवेश या ज़मीन-ज़ायदाद के सौदे के दौरान सावधान रहने की ज़रूरत है। शेयर मार्केट से बेहतर रिटर्न की उम्मीद कर सकते हैं।

बच्चों का पढ़ाई में प्रदर्शन शानदार रहेगा, प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी। हालांकि साल की शुरुआत में एकाग्रता की कमी रहेगी परतु मार्च महीने के पश्चात समय अनुकूल रहेगा। जुलाई 2018 के बाद विदेश में पढ़ाई करने के लिए अप्लाई कर सकते है। वैवाहिक जीवन आनंद में बितेगा, मार्च महीने के बाद साथी के साथ आप कुछ यादगार लम्हें गुज़ारेंगे, संतान सुख की प्राप्ति होगी। सेहत के मामले में यह साल थोड़ा कमज़ोर रह सकता है, सतर्क रहना होगा, पेट संबंधी परेशानी हो सकती है। माता जी की सेहत पर ध्यान देना होगा। नेत्र रोग, हृदय संबंधी विकार, मधुमेह, सिरदर्द और पीठ दर्द अदि की शिक़ायत हो सकती है। घर पर किसी शुभ कार्य का आयोजन हो सकता है।

राशि स्वामी: शुक्र | शुभ रत्न: हीरा | शुभ रुद्राक्ष: छह मुखी रुद्राक्ष | शुभ दिशा: दक्षिण पूरब

वर्ष 2018 को अच्छा बनाने के उपाय:

– माता का आशीर्वाद अहम भूमिका निभाएँगे। माता को खीर का भोग लगाने लाभदायक रहेगा।
– काले रंग की गाय की सेवा और दही से स्नान लाभदायक होगा।
– गले में अनंतमूल धारण करें।
– मंगलवार के दिन रक्तदान करें।
– मंगलवार के दिन बगीचे में या मंदिर परिसर में अनार का पौधा लगाएँ।
– प्रत्येक गुरुवार को पीपल के पेड़ में बिना छुए जल अर्पित करें।
– काली चींटियों को रोजाना चीनी खिलानी चाहिए।
– कुष्ठ रोगियों की सेवा करनी चाहिए।
– शाम को खाने के बाद कुत्ते को रोटी देन और सुबह की शुरूआत मां के चरण स्पर्श करके करे।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on January 1, 2018 4:01 am