These flowers are quickly pleased with the offerings of goddesses - इन फूलों को चढ़ाने से जल्दी प्रसन्न होते हैं देवी-देवता - Jansatta
ताज़ा खबर
 

इन फूलों को चढ़ाने से जल्दी प्रसन्न होते हैं देवी-देवता

महादेव को धतूरे का फूल बहुत प्रिय है। महादेव को कभी केवड़े का फूल नहीं चढ़ाना चाहिए।

हनुमान जी के लाल गुलाब और लाल गेंदे के फूल अधिक प्रिय हैं।

किसी भी धार्मिक कार्य में फूलों का विशेष महत्व होता है। हिंदू संस्कृति में पूजा, त्योहारों और विशेष कार्यों में फूलों को इस्तेमाल किया जाता है। आइए आज जानते हैं किस देवता को कौन सा फूल चढ़ाना चाहिए।

भगवान शिव- महादेव को धतूरे का फूल बहुत प्रिय है। इसके अलावा हरसिंगार, नागकेसर, बेलपत्र का फूल भी भगवान शिव को अर्पित करना उत्तम होता है। महादेव को कभी केवड़े का फूल नहीं चढ़ाना चाहिए।

भगवान गणेश – भगवान गणेश को हर तरह के फूल चढ़ाएं जाते हैं लेकिन भगवान गणेश को दूर्वा अधिक प्रिय है। अगर दूर्वा तीन या पांच पत्तियों की हो तो अति उत्तम होती है।

माता लक्ष्मी- मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए कई तरह के उपाय किए जाते हैं। अगर मां लक्ष्मी को कमल के फूल, लाल गुलाब और पीले रंग के फूल चढ़ाएं तो मां लक्ष्मी जल्दी प्रसन्न होती है।

बजरंगबली- हनुमान जी को लाल गुलाब और लाल गेंदे के फूल अधिक प्रिय हैं। यदी आप इन्हें लाल रंग के फूल चढ़ाते है तो ये जल्दी प्रसन्न होते हैं।

भगवान विष्णु- भगवान विष्णु तुलसी चढ़ाने से जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं। फूलों की बात करें तो भगवान विष्णु को कमल, मालती, चमेली, केवड़ा, बशंती, जूही, चंपा आदि के फूल अधिक प्रिय हैं। आक, धतूरा, सहजन, सेमल, कचनार और गूगल के फूल कभी नहीं चढ़ाना चाहिए।

मां दुर्गा – माता दुर्गा को लाल अड़हुल के फूल अधिक प्रिय हैं। यदि इन फूलों से मां दुर्गा की आराधना की जाए तो मां दुर्गा जल्दी प्रसन्न होती हैं। 108 अड़हुल फूलों की माला मां दुर्गा को चढ़ाने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on October 30, 2017 10:04 am