ताज़ा खबर
 

कुंडली में इन ग्रहों के खराब होने से पढ़ाई में बाधा आने की है मान्यता

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार राहु और शनि भी आपकी पढ़ाई-लिखाई को काफी हद तक प्रभावित कर सकते हैं। यदि सूर्य, बुध या वृहस्पति पर राहु या फिर शनि का प्रकोप पड़ जाए तो काफी दिक्कत खड़ी हो जाती है।

सांकेतिक तस्वीर।

आपने कई बार यह महसूस किया होगा कि अक्सर आपकी पढ़ाई-लिखाई में बाधा आती रहती है। आप तमाम प्रयास करने के बाद भी इससे बच नहीं पाते हैं। ज्योतिष शास्त्र की मानें तो ऐसा कुंडली में कुछ खास ग्रहों की दशा खराब होने की वजह से होता है। ज्योतिष में ऐसा माना जाता है कि जिस बच्चे या व्यक्ति की कुंडली में सूर्य, बुध या वृहस्पति की दशा कमजोर हो जाती है, उसकी पढ़ाई-लिखाई में काफी बाधाएं आने लगती हैं। ऐसे में ज्योतिष की मानें तो अच्छी पढ़ाई-लिखाई के लिए कुंडली में सूर्य, बुध और वृहस्पति ग्रह की स्थिति का सही होना बहुत जरूरी है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार राहु और शनि भी आपकी पढ़ाई-लिखाई को काफी हद तक प्रभावित कर सकते हैं। कहते हैं कि यदि सूर्य, बुध या वृहस्पति पर राहु या फिर शनि का प्रकोप पड़ जाए तो काफी दिक्कत खड़ी हो जाती है। बताया जाता है कि ऐसा होने पर व्यक्ति दूसरे कई कार्यों में बिजी हो जाता है और अपनी पढ़ाई-लिखाई के लिए समय नहीं निकाल पाता। ऐसे में ज्योतिष के मुताबिक कोई एक नहीं बल्कि कुछ खास ग्रह मिलकर आपकी पढ़ाई में बाधा डालने का काम करते हैं।

शनि ग्रह के बारे में ऐसा कहा जाता है कि इसके मजबूत होने से व्यक्ति काफी आसानी से विदेशी भाषाएं सीख लेता है। इसके अलावा जिनका शनि अच्छा होता है, वे लोग सेना में काफी अच्छा कार्य करते हैं। दूसरी तरफ, यदि शनि का सूर्य, बुध या वृहस्पति पर प्रकोप हो जाए तो काफी परेशानियां खड़ी हो जाती हैं। कहते हैं कि शनि के खराब होने पर आपकी पढ़ाई-लिखाई में समाज एक बाधक बन सकता है। इसके अलावा ऐसी स्थिति में व्यक्ति की सेहत खराब हो जाने की भी मान्यता है। ऐसा माना जाता है कि इन ग्रहों की दशा खराब होने पर व्यक्ति का एग्जाम भी अच्छा नहीं होता। वह व्यक्ति काफी मेहनत करने के बावजूद अच्छे अंक हासिल नहीं कर पाता।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on June 13, 2018 7:05 pm

  1. No Comments.

More on this story