ताज़ा खबर
 

शनि और बुध के अस्‍त होने का सभी राशियों पर पड़ेगा असर, इस राशि के लोग जल्‍दबाजी में न लें कोई फैसला

शनि को लोकतंत्र का मालिक माना जाता है इसलिए लोकतंत्र में समस्याएं हो सकती है।

शनि के अस्त होने से दुनियाभर में लोगों का स्वास्थ्य और रोजगार प्रभावित होगा।

शनि ग्रह 5 दिसंबर को अस्त गया है और बुध ग्रह 6 दिसंबर को अस्त हो रहे हैं। ऐसे में 12 राशियों पर इनका प्रभाव पड़ेगा। शनि 5 दिसंबर से 7 जनवरी तक अस्त रहेंगे। शनि का अस्त होने का मतलब धनु राशि में मौजूद शनि का अस्त होना। बता दें इससे पहले शनि ग्रह धनु राशि में मौजूद थे और सूर्य वृश्चिक राशि में है। इसके साथ ही 6 दिसंबर को बुध ग्रह भी अस्त हो रहे हैं। शनि के अस्त होने से दुनियाभर में लोगों का स्वास्थ्य और रोजगार प्रभावित होगा। बुध के अस्त होने से आर्थिक चीजों में उतार-चढ़ाव होगा। जो शनि प्रधान लोग हैं उनको नुकसान होने की संभावना है। वहीं बृहस्पति प्रधान लोगों को लाभ मिलेगा।

शनि-बुध के अस्त होने के प्रभाव – शनि के अस्त होने से अशांति होगी। शनि को लोकतंत्र का मालिक माना जाता है इसलिए लोकतंत्र में समस्याएं होंगी और दो देशों के बीच युद्ध जैसी स्थितियां बन सकती है। बुध के अस्त होने से आर्थिक रूप से नियम कड़े हो सकते हैं। शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिल सकती है। रहस्यमी लोगों के राज खुल सकते हैं।

मेष , सिंह और धनु राशि वालों को करियर में दिक्कत हो सकती है। कोई महत्वपूर्ण काम में बाधा आ सकती है।

वृष, कन्या, मकर राशि वालों को और ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी। साथ ही इनको करियर में सावधानी बरतनी पड़ेगी।

मिथुन, तुला और कुंभ राशि वालों को सेहत का ध्यान रखना चाहिए। इन राशि वालों का प्रधान ग्रह शनि होता है। साथ ही जरूरी निर्णय में सावधानी बरतनी होगी।

कर्क, वृश्चिक और मीन राशि वालों को आर्थिक नुकसान हो सकता है। किसी भी जगह निवेश ना करें। करियर में मुश्किलें हो सकती है।

उपाय – रोज शाम को रुद्राक्ष की माला से शनि मंत्र का 108 बार जाप करें। सुबह भगवान श्री कृष्ण की पूजा करें। शनिवार के दिन पीपल के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं। इसके साथ मिडिल फिंगर में एक लोहे का छल्ला भी पहन लें। शनिवार के दिन खाने पीने की चीज का दान करें। इस समय हल्के नीले रंग और हरे रंग के प्रयोग से भी लाभ होगा।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on December 6, 2017 12:59 pm

  1. No Comments.