ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी पर चढ़ी है साढ़े साती, मंगल की भी है महादशा, 2022 तक रहेगा ऐसा हाल

राहुल गांधी की कुंडली में गुरु शत्रु राशि में मौजूद है और बुध और मंगल शत्रु राशि में है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी। (पीटीआई फाइल फोटो

राहुल गांधी को राजनीति विरासत में मिली। गांधी परिवार ने देश की सत्ता पर कई दशकों तक राज किया। लेकिन पिछले कुछ वर्षों से गांधी परिवार की लोकप्रियता कम होती जा रही है। 16 दिसंबर 2017 को राहुल गांधी ने औपचारिक रूप से कांग्रेस के अध्यक्ष पद की शपथ ली। उसके अगले ही दिन दो राज्‍यों (गुजरात और हिमाचल प्रदेश) में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे आए, जो कांग्रेस के लिए निराशाजनक रहे। जानते हैं नए अध्‍यक्ष के नेतृत्व में क्या कांग्रेस फिर देश पर राज कर पाएगी और राहुल गांधी की स्थिति में बदलाव होगा।

राहुल गांधी का जन्म 19 जून 1970 को ज्येष्ठा नक्षत्र में हुआ था। राहुल गांधी की वृश्चिक राशि है और स्वामी ग्रह बुध है। पिछले महीने तक वृश्चिक राशि शनि का गोचर था। फिलहाल वह खत्म हो गया है। शनि के गोचर में राहुल गांधी को लोकप्रियता में काफी नुकसान हुआ। लेकिन राहुल गांधी की कुंडली में साढ़ेसाती अभी भी है। राहुल गांधी की कुंडली में मंगल की महादशा है जो साल 2022 तक चलेगी। मंगल सूर्य के साथ शत्रु बुध की मिथुन राशि में मौजूद है। इसलिए राहुल के लिए यह समय अच्छा नहीं है।

11 दिसंबर को उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र में राहुल गांधी को कांग्रेस के अध्यक्ष पद की कमान मिली। फाल्गुनी नक्षत्र का स्वामी सूर्य है और चंद्रमा कन्या राशि में था। जब राहुल को यह पद मिला तब उनकी राशि में चंद्रमा एकादशा था। राहुल गांधी के लिए अध्यक्ष चुनौती भरा रहेगा। राहुल गांधी को आने वाले समय में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। मंगल की महादशा के कारण सूर्य के नक्षत्र में पद संभालने के कारण नाम को मिलेगा लेकिन सफलता के लिए उन्हें संघर्ष अधिक करना पड़ेगा।

राहुल गांधी की कुंडली में गुरु शत्रु राशि में मौजूद है और बुध और मंगल शत्रु राशि में है। जिसके कारण राहुल गांधी के राजनीतिक शत्रु उन पर हावी रहेंगे। चंद्र और शनि नीच राशि में है। कुंडली में सूर्य सही दशा में है लेकिन बाकि ग्रह सही दशा में नहीं है। वही कुंडली में राहु और केतु अच्छी स्थिति में है। 2022 के बाद कुंडली में राहु की महादशा चलेगा, जिसके कारण राहुल गांधी की कुंडली में ग्रहों की दशा में सुधार आएगा और सफलता प्राप्त करने का मौका मिल सकता है।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on December 18, 2017 4:09 pm