ताज़ा खबर
 

ये पांच संकेत दिखते ही बच्चे की सेहत को लेकर पेरेंट्स हो जाएं सावधान

चेहरे पर काले निशान बनना: बच्चे के चेहरे पर काले रंग के निशान बनने पर सावधान हो जाना चाहिए। इससे बचने के लिए सूर्य के सामने बैठकर एक मुट्ठी गेंहू लेकर गायत्री मंत्र का जाप करें।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

पेरेंट्स को हमेशा अपने छोटे बच्चों की सेहत की चिंता लगी रहती है। वे अपने बच्चों के स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए तमाम सारे प्रयास करते हैं। ज्योतिष शास्त्र में भी बच्चों की सेहत को लेकर काफी कुछ कहा गया है। आज हम आपको उन पांच संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं जो यह दर्शाते हैं कि बच्चे की सेहत खराब होने वाली है। ऐसे में आप इन संकेतों को जानकर उनकी सेहत का ख्याल अच्छे से रख सकते हैं। और साथ ही बच्चे को बीमार होने से भी रोक सकते हैं।

1. हथेलियों में पसीना आना: यदि बच्चे की हथेलियों में बहुत अधिक पसीना आ रहा हो तो आपको सावधान हो जाने की जरूरत है। हथेलियों और पांव के तलवों में पसीना आना इस बात का संकेत है कि आपका बच्चा किसी बात से परेशान है। ऐसा हो सकता है कि वह अपनी पढ़ाई या किसी अन्य वजह से तनाव में आ गया हो।

2. त्वचा का रंग बदलना: यदि बच्चे की कुंडली में शुक्र ग्रह गलत दशा में हो तो उसकी त्वचा का रंग बदलने लगता है। खासतौर से चेहरे की त्वचा पर कुछ धब्बे नजर आने लगते हैं। इस स्थिति में बच्चों को विटामिन ई वाले खाद्य व पेय पदार्थ देने चाहिए।

3. तलवे का सख्त होना: यदि बच्चे के तलवे सख्त हों तो यह उनके भविष्य के लिए अच्छा संकेत नहीं है। ऐसा होने पर बच्चे को अपने जीवन में धन और मित्रता संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इससे बचने के लिए बच्चे की तलवे की मालिश गाय के घी से करनी चाहिए।

4. चेहरे पर काले निशान बनना: बच्चे के चेहरे पर काले रंग के निशान बनने पर सावधान हो जाना चाहिए। इससे बचने के लिए सूर्य के सामने बैठकर एक मुट्ठी गेंहू लेकर गायत्री मंत्र का जाप करना चाहिए।

5. सांस फूलने पर: यदि बच्चे की सांस फूल रही हो तो आप सतर्क हो जाएं। ऐसा किसी इंफेक्शन की वजह से हो सकता है। ऐसी स्थिति में आपको बच्चे को चीनी या ठंडी चीजें खाने को नहीं देनी चाहिए। इस वक्त आपको बच्चे को भाप देनी चाहिए।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on May 21, 2018 5:53 pm

More on this story