ताज़ा खबर
 

Palmistry: हथेली का यह निशान, व्यक्ति को बनाता है धनवान

गुरु पर्वत पर स्टार का निशान काफी शुभ माना जाता है। ऐसे लोगों को जीवन में अच्छी कामयाबी देखने को मिलती है। साथ ही यह लोग सम्मान भरी जिंदगी जीते हैं।

गुरु पर्वत पर स्टार का निशान काफी शुभ माना जाता है।

हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार मनुष्य के हाथ की लकीरों के साथ-साथ उस पर मौजूद चिन्हों का भी खास महत्व होता है। व्यक्ति के हाथ की रेखाओं से कई तरह के चिन्ह बन जाते हैं जिनका अपना महत्व होता है। इनमें से कुछ चिन्ह काफी शुभ फल देते हैं। जानिए किस चिन्ह के होने से क्या लाभ मिलता है…

– अगर किसी व्यक्ति के हाथों की उंगलियों के बीच वाले हिस्से में खड़ी लाइनें होती हैं तो ऐसे लोग काफी मिलनसार स्वभाव के होते हैं।

– अगर किसी मनुष्य की हथेली के बुद्ध पर्वत पर एक से ज्यादा खड़ी लाइनें दिखाई दें तो ऐसे लोग बहुत ही मददगार होते हैं। इन लोगों को दूसरों से काफी सहानुभूति रहती है। आमतौर पर ऐसी लाइनें डॉक्टर, नर्स या संत महात्मा के हाथों में देखी जाती है। जो किसी ना किसी चीज के माध्यम से लोगों की मदद करते हैं।

– अगर सूर्य पर्वत पर खड़ी रेखाओं को मिलाकर पतंग या फिर मछली जैसी आकृति बन जाए तो इसे काफी शुभ माना जाता है। ऐसे लोग अपने जीवन में काफी ख्याति हासिल कर लेते हैं। किस्मत के धनी होने के साथ-साथ धार्मिक भी होते हैं। आमतौर पर ऐसे लोग धनवान होते हैं।

– अगर ह्रदय और मस्तिष्क रेखा के बीच में क्रॉस के निशान बनते हैं तो ऐसे लोगों का ध्यान हमेशा किसी रहस्यमयी चीजों को खोजने की तरफ ज्यादा रहता है।

– अगर किसी व्यक्ति की जीवन रेखा के आखिरी भाग में क्रॉस बन रहा हो तो ऐसे लोगों की जिंदगी के आखिरी 10 साल काफी अच्छे से गुजरते हैं। यह व्यक्ति अपने जीवन के आखिरी पढ़ाव में अच्छा सुख भोगते हैं।

– अगर किसी व्यक्ति की जीवन रेखा पर मछली के चिन्ह बनने के साथ-साथ क्रॉस का भी चिन्ह बन जाए तो ऐसे लोग जीवन के अंतिम समय में काफी धनवान बन जाते हैं। साथ ही दान-पुण्य के कार्यों में इनका मन ज्यादा लगने लगता है।

– जिन व्यक्तियों की दिल की रेखा पर त्रिकोण का निशान बनता है ऐसे लोगों के पास काफी मात्रा में संपत्ति एकत्रित हो जाती है।

– गुरु पर्वत पर स्टार का निशान काफी शुभ माना जाता है। ऐसे लोगों को जीवन में अच्छी कामयाबी देखने को मिलती है। साथ ही यह लोग सम्मान भरी जिंदगी जीते हैं।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और लिंक्ड इन पर जुड़ें

First Published on May 21, 2019 1:00 pm

More on this story

X