ताज़ा खबर
 

नवरात्रि में अपनी राशि अनुसार करें उपाय, बन सकते हैं बिगड़े काम

कन्या राशि के जातक को मां ब्रह्रमाचारिणी की पूजा करनी चाहिए। लक्ष्मी मंत्रों का विधि-विधान पूर्वक जाप करें।

Navratri 2018 Date: नवरात्र में मां दुर्गा के 9 रूपों की आराधना की जाती है।

रविवार 18 मार्च से नवरात्र शुरू हो गए हैं। हिंदू धर्म में नवरात्रि का बहुत महत्व माना जाता है। नवरात्र को देशभर में बड़ी धूम-धाम के साथ मनाया जाता है। इस दौरान लोग 9 दिन मां दुर्गा का उपवास कर पूजा करते हैं। मां दुर्गा की पूजा पूरे विधि-विधान से की जाती है। आइए जानते हैं राशिनुसार उपाय, जिससे मां दुर्गा प्रसन्न हो सकती हैं।

मेष – इस राशि के लोगों को स्कंदमाता की पूजा करनी चाहिए। दुर्गा सप्तशति या दुर्गा चालीसा का पाठ करना चाहिए।

वृषभ – इस राशि के जातक को महागौरी स्वरूप की पूजा करें व लतिता सहस्त्रनाम का पाठ करें।

मिथुन – इस राशि के लोग देवी यंत्र स्थापित कर मां ब्रह्रमचारिणी की पूजा करें। इससे लाभ मिल सकता है।

कर्क– इस राशि के जातक को मां शैलपुत्री की पूजा करनी चाहिए। लक्ष्मी सहस्त्रनाम का पाठ भी करें।

सिंह – इस राशि के लोगों के लिए मां कूष्मांडा की पूजा करनी चाहिए। माना जाता है कूष्मांडा की पूजा विशेष फल देने वाली होती है।

कन्या – कन्या राशि के जातक को मां ब्रह्रमाचारिणी की पूजा करनी चाहिए। लक्ष्मी मंत्रों का विधि-विधान पूर्वक जाप करें।

तुला – तुला राशि के जातक को महागौरी की पूजा करनी चाहिए। काली चालीसा का पाठ करें।

वृश्चिक – इस राशि के जातक को स्कंदमाता की पूजा करनी चाहिए। दुर्गा सप्तशति का पाठ करें।

धनु – इस राशि के लोग मां चंद्रघंटा की आराधना करें। साथ ही उनके मंत्रों का विधि-विधान से जाप करें।

मकर – मकर राशि के जातक को मां काली की पूजा करनी चाहिए। नर्वाण मंत्रों का जाप करना चाहिए।

कुंभ – इस राशि के लोग मां कालरात्रि कू पूजा करें। नवरात्र के दौरान रोज देवी कवच का पाठ करें।

मीन – इस राशि के जातक को मां चंद्रघंटा की पूजा करना चाहिए। हल्दी की माला से बगलामुखी मंत्रों का जाप करना चाहिए।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on March 18, 2018 12:13 pm