ताज़ा खबर
 

Mercury Transit 2019: बुध का शत्रु राशि में गोचर, इन 2 राशियों के लिए है बेहद खास

Mercury Transit 2019: बुध कर्क राशि में अगले 07 जुलाई तक रहेगा और इसके बाद वक्री होकर वापस मिथुन राशि में लौट आएगा। इस वक्री अवस्था में बुध 30 जुलाई 2019 तक रहने वाला है।

Mercury Transit, Mercury Transit 2019, Mercury Transit 2019 Dates, Mercury Transit 2019 Effect on zodiacs, Mercury planet, Cancer zodiacMercury Transit 2019 Dates And Effect: बुध का शत्रु राशि में गोचर, इन 2 राशियों के लिए है बेहद खास

Mercury Transit 2019: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बुध ग्रह का कर्क राशि में गोचर हुआ है। बुध ग्रह का यह गोचर 21 जून 2019, शुक्रवार को सुबह 02 बजकर 19 मिनट पर हुआ है। बुध कर्क राशि में अगले 07 जुलाई तक रहेगा और इसके बाद वक्री होकर वापस मिथुन राशि में लौट आएगा। इस वक्री अवस्था में बुध 30 जुलाई 2019 तक रहने वाला है। इसके बाद यह वक्री से मार्गी हो जाएगा। ज्योतिष में बुध ग्रह को बुद्धि, व्यापार, तर्क शक्ति और वाणिज्य का कारक ग्रह माना गया है। ऐसे में ज्योतिष के अनुसार यह जानते हैं कि बुध के कर्क राशि में जाने से सभी 12 राशि के जातकों पार क्या असर पड़ने वाला है।

मेष: बुध का गोचर आपकी कुंडली के चौथे भाव में हुआ है। इसके प्रभाव से आपको पारिवारिक जीवन में खुशहाली आएगी। माता-पिता की सेहत बिगड़ सकती है। इस गोचर की अवधि के दौरान आपको अपनी मेहनत का भरपूर लाभ मेलीगा। नौकरी में उच्च अधिकारियों का भी सहयोग मिलेगा। गोचर के दौरान आपको जमीन-जायदाद से जुड़े मामले में विवाद खड़ा होगा। नया घर खरीद सकते हैं या मकान बनवा सकते हैं। वहीं जीवनसाथी को कार्यस्थल पर तरक्की मिलने के योग हैं।

वृषभ: बुध का यह गोचर आपकी कुंडली के तीसरे भाव में हुआ है। इस गोचर की अवधि में आप कोई भी बड़ा फैसला लेंगे किसका अंजाम अच्छा नजर आएगा। परिवार में भाई-बहन की मदद कर सकते हैं। गोचर के दौरान किसी पर भी भरोसा करने से बचना होगा। आर्थिक रूप से यह गोचर आपके लिए लाभकारी है। किसी नए रिश्ते की शुरुआत कर सकते हैं। जो आपके लिए शुभ साबित होगा। वैवाहिक जीवन में तनाव आएगा।

मिथुन: बुध गोचर कर आपकी कुंडली के दूसरे भाव में प्रवेश किए हैं। गोचर की अवधि में आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा। हालांकि गोचर के दौरान आपकी वाणी में मधुरता रहेगी। आर्थिक दृष्टि से यह गोचर आपके लिए शुभ है। कोई नई संपत्ति खरीद सकते हैं। माता जी के स्वास्थ्य में सुधार आएगा। भौतिक सुख का आनंद भी आप इस गोचर के दौरान ले सकते हैं।

कर्क: बुध का गोचर आपकी ही राशि में हुआ है। इसलिए ये आपकी राशि के पहले भाव में रहेंगे। इस गोचर के प्रभाव से आपको स्वास्थ्य संबंधी परेशानी होगी। शारीरिक रूप से बीमार पड़ सकते हैं। वहीं आर्थिक दृष्टि से यह गोचर आपके लिए लाभदायक साबित होगा। परिणामस्वरूप आपको विदेशी स्रोत से धन लाभ होगा। साथ ही परिवार में भाई, बहन और माता-पिता से लाभ प्राप्त होगा। नौकरी और व्यवसाय में तरक्की के भी प्रबल योग हैं। इसके अलावा जीवनसाथी से भी लाभ मिलने वाला है।

सिंह: बुध आपकी कुंडली के 12वें भाव में प्रवेश किए हैं। जिसके कारण आर्थिक दृष्टि से यह गोचर हानिकारक साबित होगा। गोचर के दौरान आपके खर्च में वृद्धि होगी। इसलिए आपको खर्च पर नियंत्रण करने की आवश्यकता है। घर के किसी सदस्य के साथ विदेश की यात्रा पर जा सकते हैं। व्यापार के कम से भी विदेश यात्रा पर जाने के योग हैं। साथ ही गोचर के दौरान आप विवादों को सुलझाने में लगे रहेंगे।

कन्या: बुध आपकी कुंडली के 11वें भाव में प्रवेश किया है। इस गोचर की अवधि में आपकी मनोकामना पूरी होगी। साथ ही शारीरिक दृष्टि से ऊर्जावान और सबल रहने वाले हैं। पारिवारिक सदस्यों और दोस्तों के साथ सुकून के पल बिताने वाले हैं। पार्टनर के साथ किसी धार्मिक यात्रा पर जाने के योग हैं। गोचर के दौरान धन संचय कर सकते हैं।

तुला: बुध का गोचर आपकी कुंडली के 10वें भाव में हुआ है। इस दौरान आपको बिजनेस में भरपूर लाभ हो सकता है। नौकरी में पदोन्नति के योग हैं। गोचर के दौरान आपको पारिवारिक स्तर पर भी लाभ मिलने वाले हैं। आर्थिक दृष्टि से भी यह गोचर आपके लिए लाभकारी है। विदेशी स्रोत से धन लाभ हो सकता है। साथ ही गोचर के दौरान आपको भाग्य का भरपूर साथ मिलेगा।

वृश्चिक: बुध आपकी कुंडली के नौवें भाव में प्रवेश किए हैं। गोचर के प्रभाव से आपको अपने जीवन में उतार-चढ़ाव नजर आएगा। परिवार में माता की सेहत बिगड़ सकती है। अचानक किसी यात्रा पर जा सकते हैं। विद्यार्थी वर्ग को शिक्षा के लिए विदेश जाने के योग हैं। आध्यात्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी। आर्थिक रूप से आपके आय में वृद्धि होगी।

धनु: बुध का गोचर आपकी कुंडली के आठवें भाव में हुआ है। यह गोचर आपकी सेहत के लिए हानिकारक साबित होगा। इस दौरान स्वास्थ्य में गिरावट आएगी। शादीशुदा लोगों को जीवनसाथी से विवाद हो सकता है। धार्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी। साथ ही इस गोचर के दौरान पिता को धन हानि हो सकती है। हालांकि पिता जी की मदद कर उनके दिलों स्थान बना सकते हैं।

मकर: बुध आपकी कुंडली के सातवें भाव में प्रवेश किया है। करियर के लिहाज से यह गोचर आपके लिए शुभ है। गोचर के दौरान आपको नौकरी या कार्यक्षेत्र में तरक्की होगी। साथ ही पदोन्नति के भी योग हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से भी यह गोचर आपके लिए लाभदायक साबित होगा। परिवार में पिता को धन लाभ हो सकता है। साथ ही परिवार में सदस्यों के साथ खुशनुमा पल बिताने वाले हैं। इसके अलावा जीवनसाथी के साथ अच्छा तालमेल बनाकर रखना आपके लिए लाभकारी साबित होगा।

कुंभ: बुध आपकी कुंडकी के छ्ठे भाव में प्रवेश किया है। इस गोचर के प्रभाव से आपको कर्जों से मुक्ति मिलेगी। आर्थिक रूप से भी यह गोचर आपके लिए लाभकारी है। धन संचय कर सकते हैं। आदालत के मामलों का निपटारा हो सकता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह गोचर आपके लिए अच्छा साबित नहीं होगा। विद्यार्थी वर्ग को उनकी मेहनत का लाभ मिलेगा। गोचर की अवधि में आपको अपने गुस्से पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है।

मीन: बुध का गोचर आपकी कुंडली के पांचवें भाव में हुआ है। इस गोचर के दौरान आप कुछ नया सीख सकते हैं। मीन राशि से संबंध रखने वाले विद्यार्थी वर्क के लिए यह गोचर लाभदायक साबित होने वाला है। प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलने वाली है। इसके अलावा इस गोचर के दौरान आय में वृद्धि होने वाली है। जीवनसाथी को कार्यक्षेत्र में अच्छी उपलब्धि हासिल होने वाली है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

More on this story

Next Stories
1 Health Horoscope Today, 22 June 2019: सिंह राशि वाले सेहत के प्रति न बरतें लापरवाही, जानिए अपना स्वास्थ्य राशिफल
2 ज्योतिष शास्त्र: धन-वैभव का कारक होता है शुक्र ग्रह, जानिए इसे मजबूत करने के लिए क्या बताए गए हैं उपाय
3 Finance Horoscope Today, 21 June 2019: कन्या राशि वाले रहेंगे आर्थिक रूप से मजबूत, जानिए अपना वित्त राशिफल
ये पढ़ा क्या?
X