ताज़ा खबर
 

मकर राशिफल 2018: इस साल आर्थिक स्थिति हो सकती है कमजोर, कारोबार में सोच-समझकर निवेश करें

Makar Rashifal 2018, Horoscope in Hindi: ज़मीन-ज़ायदाद से संबंधित परेशानी हो सकती है। वित्तीय मामलों में सतर्कता ज़रूरी है।

यह साल उन विद्यार्थियों के लिए भी अच्छा है जो उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाना चाहते हैं।

राशिफल 2018 के अनुसार यह वर्ष मकर राशि वालों के लिए यह साल उतार-चढ़ावों से भरपूर रहेगा और ख़र्चों में वृद्धि होगी और आर्थिक संकट का भी सामना करना पड़ सकता है, ज़मीन-ज़ायदाद से संबंधित परेशानी हो सकती है। वित्तीय मामलों में सतर्कता ज़रूरी है। नौकरीपेशा लोगो को मार्च से लेकर मई तक कार्य-स्थल पर होने वाले विवादों से दूर रहने का प्रयास करना चाइए, व्यापार में इस साल जोख़िम उठाना ठीक नहीं है, किसी बड़े निवेश के लिए समय उपयुक्त नहीं है। नई शुरुआत के लिए समय अनुकूल नहीं है परन्तु यदि आप लोहा, स्टील, कपड़ा या आयात-निर्यात के व्यापार से जुड़े है तो आपको मुनाफ़ा होने वाला है। विद्यार्थियों के लिए यह साल बहुत ही शानदार रहने वाला है, ख़ासकर उन लोगों के लिए जो प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं।

यह साल उन विद्यार्थियों के लिए भी अच्छा है जो उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाना चाहते हैं। यह समय मैनेज़मेंट, इंजीनियरिंग और फ़ाइन आर्ट के विद्यार्थियों के लिए बहुत ही अनुकूल है। वैवाहिक जीवन अच्छा रहेगा, प्रेम-जीवन में मधुरता रहेगी और परिवार के साथ यादगार पल बिताएँगे। संतान सुःख की प्राप्ति हो सकती है। घर पर विवाह जैसे शुभ कार्यों का संपन्न होना संभव है। आपकी सेहत की बात करें तो स्वास्थ्य पर ध्यान देना चाहिए। आँतों में संक्रमण की समस्या हो सकती है। पेट से संबंधित परेशानी होने की संभावना है। मोटापा, सुस्ती और अनिद्रा जैसी दिक्क़तें हो सकती हैं। आपके पार्टनर की सेहत थोड़ी नाजुक रह सकती है, पिता की सेहत चिंता की वजह हो सकती है, उनका ख़्याल रखें। घर पर किसी शुभ कार्य का आयोजन होगा। आध्यात्म की ओर आपका रूझान होगा, परिवार के साथ धार्मिक स्थल की यात्रा संभव है।

राशि स्वामी: शनि | शुभ रत्न: नीलम | शुभ रुद्राक्ष: सात मुखी रुद्राक्ष | शुभ दिशा: पश्चिम

वर्ष 2018 को अच्छा बनाने के उपाय:

– हनुमान जी को मंगलवार को लड्डू का भोग लगावें ।
– भगवान गणेश की नियमित रूप से पूजा करें और उन्हें दूर्वा एवं मोदक चढ़ाएँ।
– श्री गणपति अथर्वशीर्ष स्त्रोत का पाठ करें।
– काले कपड़े में धतूरे की जड़ बांधकर गले या हाथ में शनिवार के दिन बाँधें।
– मंगलवार एवं शनिवार को चमड़े, लकड़ी की वस्तुएं व किसी भी प्रकार का तेल नहीं खरीदना चाहिए, दाढ़ी व बाल नहीं कटवाने चाहिएं।
– किसी दु:खी व्यक्ति के आंसू अपने हाथों से पोंछने चाहिएं।
– पीपल के पेड़ में तिल्ली के तेल का दीपक जलाना चाहिए।
– नौकरों, वृद्धों एवं गरीबों का सम्मान करना चाहिए।
– बंदरों की सेवा और केले के पेड़ में दूध देना चाइये।
– कुत्तों की सेवा करनी चाइये।
– गाय व बैल को दूध-चावल खिलाना चाइये।
– अंधजनों को भोजन करना चाहिए और शराब से दूर रहना चाहिए।
– कुष्ठ रोगियों की सेवा करनी चाहिए।
– शाम को खाने के बाद कुत्ते को रोटी देन और सुबह की शुरूआत मां के चरण स्पर्श करके करे।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on January 1, 2018 4:01 am