ताज़ा खबर
 

जानें मंदिर में किस दिशा में रखनी चाहिए भगवान की मूर्तियां

मंदिर में हनुमान जी की स्थापना दक्षिण-पश्चिम दिशा की ओर करनी चाहिए।

घर या दुकान में मंदिर ईशान कोण में बनाना लाभकारी माना जाता है।

लगभग सभी घरों और दुकानों में पूजा करने के लिए मंदिर होता है। मंदिर के साथ हमारी धार्मिक आस्था जुड़ी हुई होती है। इससे हमारी भगवान के प्रति आस्था बनी रहती है। घर या दुकान में मंदिर का होना शुभ फलदायक होता है। आइए आज वास्तु के अनुसार जानते हैं किस दिशा में मंदिर होना चाहिए साथ ही मंदिर में किस तरह रखनी चाहिए देवी-देवताओं की तस्वीरें-

1. घर या दुकान में मंदिर ईशान कोण( पूर्व-उत्तर) दिशा में बनाना लाभकारी माना जाता है।

2. मंदिर में देवी-देवताओं की मूर्तियां उत्तर या पूर्व दिशा में करना स्थापित करना शुभ माना जाता है।

3. मंदिर में भगवान गणेश, कुबेर देवता, मां लक्ष्मी और नवग्रह की स्थापना दक्षिण दिशा की ओर करनी चाहिए। यानी मूर्तियों का मुंह दक्षिण दिशा की ओर होना चाहिए।

4. मंदिर में भगवान विष्णु, महादेव जी, श्री कृष्ण, सूर्य देव और कार्तिकेय की स्थापना इस तरह करनी चाहिए, जिससे मूर्तियों का मुंह पश्चिम दिशा की ओर रहें।

5. मंदिर में भगवान हनुमान जी की स्थापना करना शुभ लाभकारी माना जाता है। मंदिर में हनुमान जी की मूर्ति की स्थापना दक्षिण-पश्चिम दिशा की ओर करनी चाहिए।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on November 1, 2017 7:46 am