ताज़ा खबर
 

जानिए राजनीति के लिए कैसा रहेगा साल 2018

2018 में लोग किसी या कई बड़े राजनेता की गंभीर स्वास्थ्य समस्या या अवसान से स्तब्ध रह जायेंगे।

पुराने दिग्गज हाशिए पर जायेंगे। एक या कई मंत्रियों की कुर्सी जाएगी।

साल 2018 में एक नहीं कई नामचीन हस्तियां काल कलवित हो जायेंगी। आत्ममुग्धता बढ़ेगी। सही ग़लत के मध्य की पतली लकीर सुविधानुसार पूरे साल स्वयं में बदलाव करती रहेगी। धोखाधड़ी बढ़ेगी। डकैती, छिनैती और लूटपाट जैसी घटनाओं में सहसा इज़ाफ़ा होगा। मीडियाकर्मियों को कष्ट प्राप्त होगा। ईमानदार पत्रकारों की ईमानदारी स्वयं उन्हें और उनके लक्ष्य दोनों को बेचैन करेंगी। किसी भरोसेमंद पत्रकार के किसी बयान या व्यवहार पर हैरानी होगी। सीमा पर गीदड़ भभकी की भौंक और उस पर नेताओं के कड़वे वचनों की छौंक मन उदास करेगी। उत्तर, पूर्व और उत्तर पूर्व क्षेत्रों में भूकम्प से नुकसान होगा। पूर्व व दक्षिणी हिस्सों में प्रकृतिक आपदा से क्षति होगी। चैत्र से वैशाख के मध्य भारत का अन्तर्राष्ट्रीय जगत में सम्मान व दबदबा बढ़ेगा। पर भारत को उन से ज़्यादा कुछ हासिल इस साल भी नहीं होगा। सड़कों पर गाड़ी पर नियंत्रण में चूक से वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो जायेंगे। पटरियों पर ट्रेनें भी लड़खड़ाएगी। लिहाज़ा जान माल की क्षति होगी। वैशाख से ज्येष्ठ माह के मध्य पश्चिमी राष्ट्रों में बेचैनी नज़र आएगी। आगज़नी से भारी क्षति होगी। योग्य लोग किनारे नज़र आयेंगे, कमतर और अयोग्य लोग प्रमोशन पायेंगे और बड़े पदों पर नज़र आयेंगे। धार्मिक नेताओं की मुसीबत इस साल भी कम नहीं होगी। कोई नया धार्मिक विवाद गरमाएगा। विवादों के बावजूद इस साल लोगों से ज़्यादा नेताओं की धर्म पर आस्था नाटकीय रूप से बढ़ेगी। 2018 एक नहीं अनेकों विवादों को जन्म देगा। किसी नामचीन व्यक्ति पर ऊँगली उठेगी। किसी बड़े व्यक्ति पर गंभीर आरोप लगेंगे।

साल 2018 में लोग किसी या कई बड़े राजनेता की गंभीर स्वास्थ्य समस्या या अवसान से स्तब्ध रह जायेंगे। यह वर्ष नए क़दमों और कई अजीबोग़रीब फ़ैसलों के लिए जाना जाएगा। धनु के शनि के कारण नैतिक मूल्यों का सत्यानाश और विवेक का ह्रास होगा। राजनीति इस वर्ष स्वार्थी नज़र आएगी। नैतिकता, सेवा, आदर्श, शुचिता, तहज़ीब, सम्मान और जनसेवा के उतरते हुए मुलम्मे से भय पैदा होगा। जनता अपने प्रिय नेताओं से इस साल ऊब जाएगी।

संवत 2075 के मंत्री पद पर शनिदेव के आसीन होने से नेता और अधिकारी उदण्ड नज़र आयेंगे। उनकी वाणी की चाल इस साल उनकी गरिमा के अनुरूप नहीं होगी। राज नेता अपनी ज़िम्मेदारियों से भाग कर दूसरों पर कीचड़ उछालेंगे। कई नए और मध्यम दर्जे के नेता आगे आयेंगे। पुराने दिग्गज हाशिए पर जायेंगे। एक या कई मंत्रियों की कुर्सी जाएगी। जनता राजनैतिक चाल बाज़ियों की शिकार बनती नज़र आएगी। तू तू मैं मैं स्तरहीनता की निचली पायदान पर होगी। इस साल कई पुराने दोस्त दोस्ती भूल जायेंगे और दूसरी तरफ़ आश्चर्य जनक रूप से कई पुराने राजनैतिक प्रतिद्वंद्वी गलबहियां करते नज़र आयेंगे। 2018 राजनीतिक अहसानफ़रामोशी और वादाखिलाफ़ी का गवाह बनेगा। इस बरस किसी बड़े राज़ नेता का दंभ चकनाचूर हो जाएगा।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on December 30, 2017 5:21 pm