ताज़ा खबर
 

कैसे अनार बदल देता है आपकी किस्मत, जानिए ज्‍योतिष में इसका महत्‍व

महीने में एक बार राहु के स्वाति नक्षत्र में अनार की लकड़ी तोड़कर घर लाएं। इससे घर में मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी।

अनार के पौधे में विष्णु-लक्ष्मी का वास होता है।

अनार इंसान की किस्मत को बदल सकता है। अनार चढ़ाने से देवी-देवता प्रसन्न होते हैं, मनोकामनाएं पूरी होती है। शास्त्रों के माना जाता है कि अनार के पौधे में विष्णु-लक्ष्मी का वास होता है। इस घर में लगाने से पैसों की तंगी नहीं आती है। अनार की लकड़ी का प्रयोग यंत्र बनाने में भी किया जाता है।

अनार की लकड़ी का महत्व– अगर आपके काम में बार-बार कोई बाधाएं आ जाती है तो अनार की लकड़ी को प्रयोग करें। महीने में एक बार राहु के स्वाति नक्षत्र में अनार की लकड़ी तोड़कर घर लाएं। लकड़ी तोड़ने से पहले पेड़ से माफी जरूर मांगनी चाहिए। घर लाकर उस लकड़ी पर चावल, फल, मिठाई चढ़ाएं। धूप-दीपक जलाकर पूजा करें, चांदी का ताबीज में अनार की लकड़ी डालकर शनिवार को काले धागे में गले में पहनें। ऐसा करने से आपको शत्रु शांत हो जाएंगे।

धन लाभ के लिए अनार की डंडी का प्रयोग– महीने में एक बार पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र में अनार की टहनी लाएं, पूजा स्थल पर लाल कपड़ा बिछाकर टहनी की फल, फूल, मिठाई से पूजा करें। इसके बाद चार मुखी दीपक से टहनी की पांच बार आरती करें। तांबे के लोटे में पानी रखें। कुबेर मंत्र का जाप करें। लोटे का पानी पूरे घर में छिड़के। यह पूजा 21 दिन तक करनी चाहिए। इस टहनी को पीले कपड़े में लपेटकर तिजोरी में रखें। धन का लाभ होगा।

बच्चों की पढ़ाई में सुधार – गुरु पुष्य नक्षत्र में अनार की टहनी तोड़कर लाएं, उसे गंगाजल और दूध से धो लें, पूजा-पाठ करने के बाद अभिमंत्रित करें। इसके बाद टहनी को पीले कपड़े में लपेटकर बच्चों के स्टडी रूम में पीले रेशमी धागे से लटका दें। ऐसा करने से बच्चे का मन पढ़ाई में लगेगा। बच्चा बहुत चंचल हो तो हनुमान जी का छोटा गदा बच्चे के गले में पहनाएं। ऐसा करने से बच्चे शांत हो जाते हैं। अनार के तीन पौधे घर लाएं, घर के सामने पूर्व दिशा में या घर के सामने किसी पार्क में लगाएं और पौधों की देखभाल करें। जब पौधे में फल आएंगे तब आपकी किस्मत अच्छी हो जाएगी।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on October 30, 2017 1:15 pm