ताज़ा खबर
 

हाथ का अंगूठा देखकर पहचान सकते हैं व्यक्ति का चरित्र, पढ़ें रोचक जानकारी

शास्त्रों में अंगूठे को मस्तिष्क का केंद्रबिंदु बताया गया है।

अंगूठा वह धुरी है जिस पर संपूर्ण जीवन चक्र घूमता रहता है।

हाथ का अंगूठा देखकर व्यक्ति के चरित्र को पहचाना जा सकता है। शास्त्रों के मुताबिक अंगूठा वह धुरी है जिस पर इंसान का पूरा जीवन चक्र घूमता रहता है। कहा जाता है सफलता दिलवाने के लिए अंगूठा सुडौल, सुंदर और संतुलित होना चाहिए। शास्त्रों में अंगूठे को मस्तिष्क का केंद्रबिंदु बताया गया है। अंगूठे का पहला पोर इंसान के मजबूत इच्छाशक्ति का सूचक होता है। दूसरा पोर तर्क और कारण का तथा तीसरा इंसान के मनोविकार को प्रकट करता है।

अंगूठे की जड़ से व्यक्ति के आचरण को जाना जा सकता है। कहा जाता है अंगूठे की जड़ में जितनी सीधी रेखाएं होती है उसके उतनी ही संतान होती है। जिन महिलाओं के अंगूठे पर तारे का निशान बना हो तो वह बहुत भाग्यशाली मानी जाती है। इसके अलावा अंगूठे की जड़ से कोई एक रेखा शुक्र के ऊपर से होकर आयु रेखा से मिल जाए तो यह बहुत ज्यादा धन मिलने की ओर इशारा करती है।

पहला पोरा मोटा, भारी और छोटा हो तो वह व्यक्ति अचानक गुस्से में आकर किसी को नुकसान पहुंचा सकता है। यदि किसी का पहला पोरा चपटा और छोटा हो तो वह व्यक्ति अपने गुस्से पर आसानी से कंट्रोल कर सकता है। यदि अंगूठे का दूसरा पोर बड़ा हो तो वह व्यक्ति किसी कारण और तर्क को अच्छे से पेश कर सकता है। छोटा अंगूठा शुभ नहीं माना जाता है। कहा जाता है छोटे अंगूठे में काम विकृति पैदा हो सकती है । यदि अंगूठे का पहला पोर चीला हो तो व्यक्ति मिलनसार होता है और वह परिस्थिति के अनुसार झुक जाता है। साथ ही उस इंसान को वैवाहिक जीवन अच्छा रहेगा।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on December 13, 2017 1:57 pm