scorecardresearch

12 जुलाई तक कुंभ राशि में विराजमान रहेंगे शनि देव, इन 3 राशि वालों की धन-दौलत में अपार बढ़ोतरी के योग

वैदिक पंचांग अनुसार शनिदेव ने 29 अप्रैल को अपनी मूल त्रिकोण राशि कुंभ में प्रवेश कर लिया है। शनि देव के इस गोचर से 3 राशि वालों को लाभ हो सकता है।

shani transit 2022, shani gochar 2022
जुलाई में इन राशियों पर शुरू होगा साढ़ेसाती का प्रभाव – (जनसत्ता)

Saturn Planet Gochar 2022: वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हर ग्रह एक निश्चित समय अवधि पर एक राशि से दूसरी राशि में गोचर करता है। जिसका सीधा असर मानव जीवन और पृथ्वी पर पड़ता है। आपको बता दें कि कर्मफल दाता शनि देव ने 29 अप्रैल को अपनी मूलत्रिकोण राशि कुंभ में प्रवेश कर लिया है।

ज्योतिष के अनुसार शनि ग्रह सबसे धीमी गति से एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करते हैं और इनको एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करने में लगभग ढाई साल का समय लगता है। इसलिए शनि देव ने कुंभ राशि में लगभग 30 साल बाद प्रवेश किया हैं और वह यहां 12 जुलाई तक विराजमान रहेंगे। जिसका असर सभी राशियों पर पड़ेगा लेकिन ये गोचर 3 राशि वालों के लिए गोचर लाभप्रद साबित हो सकता है। जानिए ये 3 राशियां कौन सीं हैं।

मेष राशि: शनि का गोचर मेष लग्न और मेष राशि वालों के लिए शुभ साबित हो सकता है।  क्योंकि शनि देव ने आपके 11वें भाव में गोचर किया है, जिसे लाभ और इनकम का भाव कहा जाता है। इसलिए  इस दौरान आपको बिजनेस मेंं अच्छा धनलाभ हो सकता है। साथ ही इस दौरान आप कई नए स्त्रोतों से धन कमाएंगे। कारोबार और करियर में आपको आशातीत सफलता मिल सकती है। वहीं शनि देव आपके दशम भाव के भी स्वामी हैं, इसलिए इस समय आपको करियर में उन्नति मिल सकती है। नई नौकरी का प्रस्ताव आ सकता है। स्थान परिवर्तन के योग भी हैं। वहीं इस दौरान आप व्यवसायिक यात्रा से धन अर्जित करने में सफल रहेंगे। निवेश के लिए समय उचित है। साथ ही किसी पुराने रोग से मुक्ति मिल जाएगी। हालांकि यहां पर यह देखने वाली बात होगी कि शनि देव आपकी कुंडली में किस स्थिति में विराजमान हैं।

वृषभ राशि: आपकी गोचर कुंडली में शनि देव ने दशम स्थान में गोचर किया है। जिसे कर्मक्षेत्र और जॉब का स्थान कहा जाता है। इसलिए इस समय आपको व्यापार में अच्छा धनलाभ हो सकता है। करियर में सफलता मिल सकती है। कार्यस्थल में आपको मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। कारोबार में नए- नए आइडिया से आपको सफलता मिलेगी। वहीं कार्यस्थल पर वरिष्ठजनों का सहयोग प्राप्त होगा। साथ ही शनि ग्रह आपके नवम स्थान के स्वामी हैं। इसलिए इस समय आपको भाग्य का भी पूरा साथ मिलेगा। साथ ही अटके हुए काम भी बनेंगे।  वृष राशि पर शुक्र देव का आधिपत्य है और ज्योतिष के अनुसार शनि देव और शुक्र देव में मित्रता का भाव है। इसलिए शनि का गोचर आपके लिए शुभ साबित हो सकता है।

धनु राशि: शनि देव के 29 अप्रैल को गोचर करते ही आप लोगों को साढ़ेसाती से मुक्ति मिल गई है। इसलिए आपकी तरक्की के नए मार्ग खुलेंगे। वहीं शनि देव आपके तीसरे स्थान यानि कि पराक्रम भाव में गोचर किया है। इसलिए इस दौरान आपके पराक्रम और साहस में वृद्धि होगी। साथ ही कार्यक्षेत्र में आपको मान- सम्मान की प्राप्ति भी होगी। वहीं इस समय आपको कोई पुराने रोग से मुक्ति मिल सकती है। अगर आप शनि ग्रह से संबंधित व्यापार (लोहा, ऑयल, शराब,) करते हैं या करना चाह रहे हैं तो आपको यह समय शानदार रहने वाला है। साथ ही आपके अटके हुए काम इस दौरान पूरे होंगे। भाई- बहन का भी इस समय आपको पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। हालांकि यहां पर इस बात का विश्लेषण करना जरूरी है कि शनि देव आपकी कुंडली में किस भाव में और किस स्थिति में विराजमान हैं।

पढें horoscope (Horoscope News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट