ताज़ा खबर
 

सर्वपितृ अमावस्या के दिन राशि के अनुसार करें उपाय, मिलेगा पितरों से आशीर्वाद, पितृ दोष निवारण की है मान्यता

सर्वपितृ अमावस्या पितृ पक्ष का आखिरी दिन होता है। सर्वपितृ अमावस्या 2020 में 17 सितंबर, बृहस्पतिवार को है।

Sarvapitra Amavasya 2020, Pitra Dosh Nivaran Ke Upay, Sarvapitra Amavasya 2020कहते हैं कि इस दिन पितृ दोष निवारण के उपाय करने से वह जल्दी फल देने वाला साबित होते हैं।

Sarvapitra Amavasya 2020 Pitra Dosh Nivaran Ke Upay : सर्वपितृ अमावस्या पितृ पक्ष का आखिरी दिन होता है। सर्वपितृ अमावस्या 2020 में 17 सितंबर, बृहस्पतिवार की है। इस दिन पितरों का विसर्जन किया जाता है। कहते हैं कि इस दिन पितृ दोष निवारण के उपाय करने से वह जल्दी फल देने वाले साबित होते हैं। जिनके घर में सालों से मांगलिक कार्यक्रम नहीं हुए हैं और पुत्र प्राप्ति की इच्छा हो उन्हें पितृ दोष निवारण के उपाय जरूर करने चाहिए।

मेष राशि
पितरों के लिए सात्विक भोजन बनाकर दक्षिण की ओर मुख कर बैठ जाएं। उनको याद करते हुए प्रणाम करें। साथ ही यह प्रार्थना करें कि वह भोजन कर आपके घर पर कृपा करें।

वृष राशि
पितरों की तस्वीर पर सफेद रंग का हार चढ़ाएं। हाथ जोड़कर ॐ सर्व पितृ नम: का 108 बार जाप करें। तस्वीर न होने पर मानसिक रूप से उन्हें हार अर्पित कर अपने सामने रख लें।

मिथुन राशि
पीपल के पेड़ पर जल, अक्षत, उड़द की दाल और काले तिल अर्पित करें। हाथ जोड़कर अपने पितरों का स्मरण करें। उनसे प्रार्थना करें कि वह आपको और आपके परिवार के सभी सदस्यों को आशीर्वाद दें।

कर्क राशि
सर्वपितृ अमावस्या की शाम गरीब या जरूरतंमद को वस्त्र दान करें। वस्त्र दान कर उनके चरण स्पर्श कर आशीर्वाद लें। फिर पीछे मुड़कर न देखें। यह उपाय कर किसी को न बताए।

सिंह राशि
घर की दक्षिण दिशा में सफेद रंग का कपड़ा बिछाएं। स्नानादि कर पवित्र हो घर का मुखिया उस पर बैठ कर नाग स्तोत्र, महामृत्युंजय मंत्र, रुद्र सूक्त, पितृ स्तोत्र या नवग्रह स्तोत्र का पाठ करें।

कन्या राशि
सर्वपितृ अमावस्या की सुबह शिव जी के मंदिर जा कर उन्हें कच्ची लस्सी, फूल, दीप, धूप, फल और मिठाई चढ़ाकर यह प्रार्थना करें कि वह आपके घर से पितृ दोष को दूर करें।

तुला राशि
तुला राशि के जातकों को सर्वपितृ अमावस्या की शाम को कुत्तों को जलेबी खिलाएं। ध्यान दें कि किसी घर में पल रहे कुत्तों को नहीं गली-मोहल्ले के आवारा कुत्तों को जलेबी खिलाएं।

वृश्चिक राशि
सर्वपितृ अमावस्या की शाम किसी गरीब कन्या की शादी या पढ़ाई करने का संकल्प लें और इसी साल उसकी शादी या पढ़ाई में योगदान दें। यह उपाय पितृ दोष निवारण के लिए बहुत उपयोगी माना गया है।

धनु राशि
सर्वपितृ अमावस्या के दिन पितरों को विदा करने से पहले संभव हो तो गोदान करें अन्यथा प्रतीकात्मक गोदान भी किया जा सकता है। यह उपाय घर के बाहर सदस्यों को बताए बिना करें।

मकर राशि
मकर राशि के जातकों को सर्वपितृ अमावस्या की शाम को विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ कर भगवान विष्णु से प्रार्थना करें कि वह आपके घर का पितृ दोष निवारण करें।

कुंभ राशि
सर्वपितृ अमावस्या के दिन दिन ढलने से पहले अपनी क्षमता के अनुसार सात प्रकार का अनाज दान करें। कोशिश करें कि घर का मुखिया पक्षियों को अपने हाथ से यह दाना डालें।

मीन राशि
मीन राशि के जातकों को एक कटोरी आटा लें। उसमें गुड़ मिलाकर रोटी बनाएं। दक्षिण दिशा की ओर मुख कर पितरों को रोटी का भोग लगाने को कहें। फिर ये रोटी गाय को अपने हाथ से खिलाएं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

More on this story
Next Stories
1 6 ग्रह हुए स्वग्रही, जानिये क्या हैं इसके संकेत
2 विश्वकर्मा पूजा के दिन राशि के अनुसार करें ये उपाय, कारोबार में बनेंगे वृद्धि के योग
3 रविवार के दिन करें ये उपाय, बनेंगे सरकारी नौकरी पाने के योग
IPL 2020 LIVE
X