ताज़ा खबर
 

World No Tobacco Day 2018: आयुर्वेद के पास है स्मोकिंग से पीछा छुड़ाने का उपाय, जानें कैसे

हर साल 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता है। इस साल वर्ल्ड नो टोबैको डे का थीम तंबाकू और दिल के रोग रखा गया है। इसके अंतर्गत इस साल तंबाकू से होने वाली दिल की बीमारियों के बारे में चर्चा की जाएगी।

प्रतीकात्मक चित्र

हर साल 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता है। इस साल वर्ल्ड नो टोबैको डे का थीम तंबाकू और दिल के रोग रखा गया है। इसके अंतर्गत इस साल तंबाकू से होने वाली दिल की बीमारियों के बारे में चर्चा की जाएगी। सिगरेट और तंबाकू के अन्य उत्पाद एडिक्टिव नेचर के होते हैं। इनमें पाया जाने वाला निकोटिन इंसान को इनका आदी बना देता है, जिसे बाद में छोड़ना काफी मुश्किल हो जाता है। अगर आप तंबाकू सेवन के ऐसे दौर में पहुंच चुके हैं जहां आपको लगता है कि आप बिना सिगरेट या तंबाकू के नहीं रह सकते तो आपको सच में मदद की जरूरत है। आज हम आपकी मदद के लिए कुछ ऐसे टिप्स के बारे में बताने वाले हैं जिससे तंबाकू की लत से छुटकारा पाया जा सकता है।

1. ब्रश करें- दिन में जब कभी भी आपको तंबाकू की तलब लगे अपने दांतों पर ब्रश कीजिए। इससे आपकी तलब कम होगी और आप स्मोकिंग से बच जाएंगे। इसके अलावा आ मिंट, च्यूइंग गम और सूरजमुखी के बीजों का सहारा ले सकते हैं।

2. खूब पिएं पानी – सिगरेट पीना बंद करने के बाद तीन दिन तक खूब पानी पिएं। लिक्विड वाली चीजों का सेवन करें। इससे आपके शरीर से निकोटिन को बाहर निकलने में मदद मिलेगी। हां, ब्लैक टी या ब्लैक कॉफी का सेवन करने से परहेज करें।

3. जिनसेंग – आयुर्वेद के मुताबिक स्मोकिंग छोड़ने में जिनसेंग आपकी काफी मदद कर सकता है। जिनसेंग एक पौष्टिक जड़ी-बूटी होती है। यह न सिर्फ स्मोकिंग छोड़ने में आपकी मदद करती है बल्कि स्मोकिंग छोड़ने के बाद शरीर में दिखने वाले लक्षणों जैसे – इर्रिटेशन और मूड स्विंग्स आदि से भी निजात दिलाती है।

4. अदरक – अदरक आयुर्वेद के सबसे मूल्यवान जड़ी बूटियों में से एक है। आप इसका उपयोग अपने तंबाकू की लत को छुड़ाने के लिए भी कर सकते हैं। अदरक में सल्फर यौगिक होते हैं जो इस लत को कम करने में मदद करते हैं। इसके लिए अदरक के छोटे टुकड़े को नींबू के रस में भिगोएं और इसे काली मिर्च के साथ मिलाएं। अब इसे एक कंटेनर में स्टोर करें। जब भी आपको धूम्रपान की तलब लगे तो बस अदरक के इस टुकड़े में चूसें। यह काफी प्रभावी उपाय है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App