ताज़ा खबर
 

World Heart Day: हृदय रोगों से बचने के लिए रूटीन में ये 5 बदलाव हैं जरूरी

World Heart Day/ Healthy Routine for Heart : : एक रिपोर्ट के मुताबिक 2020 के अंत तक हर तीसरे व्यक्ति को हृदय रोग होगा। बताया जाता है कि हृदय रोग की वजह से 50 प्रतिशत लोग अस्पताल पहुंचने से पहले ही दम तोड़ देते हैं।

2020 के अंत तक हर तीसरे व्यक्ति को हृदय रोग होगा।

World Heart Day/ Healthy Routine for Heart : एक रिपोर्ट के मुताबिक 2020 के अंत तक हर तीसरे व्यक्ति को हृदय रोग होगा। बताया जाता है कि हृदय रोग की वजह से 50 प्रतिशत लोग अस्पताल पहुंचने से पहले ही दम तोड़ देते हैं। विशेष तौर पर भारतीयों को हृदय संबंधित रोग ज्यादा होते हैं। क्योंकि हमारी डाइट में अत्यधिक घी, तेल और मसाले शामिल होते हैं। अगर अपने दिल का ख्याल रखना हैं तो यह जरूरी है कि अपनी डाइट का ध्यान रखें। ऐसा माना जाता है कि अगर अपने रूटीन का ख्याल रखा जाए तो दिल को सेहतमंद बनाया जा सकता है।

मॉर्निंग वॉक है जरूरी – मॉर्निंग वॉक हमारी सेहत के लिए बहुत जरूरी होती है। इससे न सिर्फ हमारे पूरे शरीर को उचित मात्रा में ऑक्सीजन लेने का मौका मिलता है। बल्कि शारीरिक रूप से भी हम फिट हो जाते हैं। मॉर्निंग वॉक करने से दिल तक सही मात्रा में ऑक्सीजन पहुंच पाती है। जिससे हमारा दिल तंदरुस्त होता है। इसलिए जिन लोगों को हृदय रोग का खतरा महसूस होता है उन्हें मॉर्निंग वॉक जरूर करनी चाहिए।

ऑयल का ध्यान रखें – अपनी डाइट में बहुत ज्यादा ऑयली फूड शामिल न करें। ऐसा करने से धीरे-धीरे दिल तक पहुंचने वाली नसों में फैट जमने लग जाता है। इससे हार्ट अटैक की संभावनाएं बहुत बढ़ जाती हैं। अपनी डाइट में सरसों का तेल शामिल करें। रिफाइंड कम खाएं। क्योंकि दिल पर जमा हुआ फैट घटाना बहुत मुश्किल होता है इसलिए पहले ही कम ऑयल खाएं।

सेब है अमृत – हृदय रोगों से बचने के लिए अपनी डाइट में सेब शामिल करें। ऐसा माना जाता है कि सेब खाने से हमारा दिल मजबूत होता है। इसलिए इसे अमृत माना जाता है। कहते हैं कि एन एप्पल अ डे, किप्स द डॉक्टर अवे यानी अगर आप एक दिन में एक सेब खाते हैं तो आपको डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इसलिए यह सुनिश्चित करें कि आप अपने डेली रूटीन में एक सेब जरूर खाएं।

शारीरिक गतिविधियां बढ़ाएं – एक जगह बैठे रहने से हमारे शरीर में एनर्जी पैकेट बनने लगते हैं। जिनकी वजह से धीरे-धीरे हमारे शरीर का वजन तो बढ़ता ही है। साथ ही दिल पर भी फैट का दबाव बढ़ता चला जाता है। ऐसे में यह जरूरी है कि अपनी शारीरिक गतिविधियां बढ़ाई जाए। इसमें आप आम खेल-कूद से लेकर एक्सरसाइज तक शामिल किया जा सकता है। कोशिश करें कि आप दिन में तीन से चार घंटे एक्टिविटी जरूर करें।

Next Stories
1 यूरिक एसिड घटाने में कारगर माने जाते हैं ये 4 आयुर्वेदिक उपाय
2 मानसिक तनाव से रहना चाहते हैं दूर तो रूटीन में शामिल करें ये 5 आसान बदलाव
3 स्किन इंफेक्शन से हैं परेशान तो आज ही खाना छोड़ें ये 4 चीजें, मिलेगी राहत
ये पढ़ा क्या?
X