ताज़ा खबर
 

World Health Day 2020: उम्र के हिसाब से कैसा होना चाहिए आपका डाइट, जानिये कौन से पोषक तत्व हैं आपके लिए जरूरी

Nutritional Value for different age-groups: 50 साल के आयुवर्ग के लोगों को मध्यम फैट और कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स से भरपूर भोजन करना चाहिए। इसके अलावा, इस उम्र में कैल्शियम का सेवन भी जरूरी है।

जानिये आपकी उम्र के हिसाब से कौन से पोषक तत्व हैं जरूरी, क्या आपके डाइट में शामिल है तत्व

World Health Day 2020: उम्र बढ़ने के साथ ही लोगों की दिलचस्पी, उनकी प्राथमिकताएं और खाने की आदतों में बदलाव आते रहता है। ठीक वैसे ही बढ़ती उम्र के साथ पोषक तत्वों की जरूरत भी बदलते रहती है। हालांकि, बदलते जीवनशैली में लोगों के शरीर में पोषण की कमी आम है। कई लोग अपनी फिटनेस और डाइटिंग के चक्कर में खाने में पोषक तत्व मौजूद हैं या नहीं, इस ओर ध्यान नहीं देते हैं। ऐसे में विश्व स्वास्थ्य दिवस के मौके पर आइए जानते हैं कि लोगों के लिए कितना पोषण है जरूरी। साथ ही साथ, अलग-अलग आयुवर्ग के लोगों को अपने बेहतर स्वास्थ्य के लिए क्या करना चाहिए।

20 साल की उम्र में: 20 साल की उम्र में लोगों को कई शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक बदलावों से गुजरना पड़ता है। इस दौरान पोषक तत्वों की बेहद जरूरत होती है। पर कॉलेज की पढ़ाई से लेकर नौकरी की टेंशन के बीच ज्यादातर लोग इसे नजरअंदाज कर देते हैं। एक शोध के मुताबिक इस आयुवर्ग की युवतियां प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन और फॉलिक एसिड जैसी रोजाना की पोषण संबंधी जरूरतों को पूरा नहीं कर पाती हैं। इस उम्र में 50 ग्राम प्रोटीन और 28 ग्राम फाइबर के सेवन की सलाह दी जाती है। वहीं, लोग केवल 35 से 45 ग्राम प्रोटीन और 12 से 15 ग्राम फाइबर ही कंज्यूम कर पाते हैं। बता दें कि लो प्रोटीन, लो फाइबर, हाई शुगर और हाई सॉल्ट युक्त भोजन करने से हीमोग्लोबिन की कमी, पेट संबंधी परेशानी और हाई बीपी जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

30 साल के लोगों के लिए ये है जरूरी: डायबिटीज या हाइपरटेंशन जैसी बीमारियों के शुरुआती लक्षण आमतौर पर इसी उम्र के लोगों में देखे जाते हैं। पर फिर भी लोग अपने स्वास्थ्य को कम प्राथमिकता देते हैं। इस उम्र के लोगों को अपने डाइट में अलग-अलग प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ शामिल करने की सलाह दी जाती है। फल और सब्जियों का सेवन भी जरूरी है क्योंकि इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स आपको हार्ट डिजीज, अल्जाइमर और कैंसर के कई प्रकारों से बचाने में कारगर है। वहीं, पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने का खतरा कम हो जाता है।

40 साल के लोग इन चीजों पर दें ध्यान: 40 साल की उम्र के बाद लोगों का मेटाबॉलिक रेट कम होने लगता है। वहीं, इस उम्र के लोग कम फिजिकल एक्टिविटीज के कारण कई गंभीर बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। इसके अलावा, महिलाओं में इस दौरान आयरन की कमी भी आम है। ऐसे में पर्याप्त मात्रा में आयरन का सेवन आवश्यक है। इसके अलावा, रोजाना 1,200 एमजी कैल्शियम भी शरीर के लिए जरूरी है। साथ ही, इस उम्र में शरीर को विटामिन डी की भी जरूरत पड़ती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Health Horoscope Today, 7 April 2020: कर्क राशि वालों को डायबिटीज की समस्या हो सकती है, वहीं कुंभ राशि वाले बिल्कुल फिट रहेंगे
2 World Health Day 2020: इस दिन मनाया जाता है विश्व स्वास्थ्य दिवस, जानें कैसे हुई इसकी शुरुआत
3 इंसानों के बाद अब जानवर कोरोना की चपेट में, टाइगर की रिपोर्ट पॉजिटिव, भारत ने जारी की एडवाइजरी