Women Health: पीरियड्स के दौरान ना करें ज्यादा नमक का सेवन, हो सकती है परेशानी

जो महिलाएं पीरियड्स के दौरान धूम्रपान करती हैं, उन्हें असहनीय दर्द हो सकता है। ऐसे में मासिक धर्म के दौरान धूम्रपान से बचना चाहिए।

Menstruation, Lifestyle, Periodsपीरियड्स के दर्द से छुटकारा दिलाएं ये घरेलू उपाय (फोटो क्रेडिट- इंडियन एक्सप्रेस)

पीरियड्स यानी माहवारी के दौरान महिलाओं को कई तरह की समस्याएं होती हैं। यह समय किसी रोलरकोस्टर राइड से कम नहीं होता। क्योंकि, इस दौरान क्रेम्प्स, पेट में दर्द, ऐंठन, बदन दर्द और कमर में दर्द के कारण महिलाओं को चिड़चिड़ापन भी होने लगता है। पीरियड्स के दर्द से निजात पाने के लिए ज्यादातर महिलाएं घरेलू उपायों का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन कुछ गलितयां आपकी इस नेुरल प्रोसेस में बाधा डालकर, उसे कहीं अधिक दर्दनाक बना सकती हैं।

ऐसे में माहवारी के दौरान खुद का ख्याल रखना काफी आवश्यक है। साथ ही ऐसी गलतियों को करने से बचना चाहिए, जो आपके दर्द को बढ़ा सकती हैं।

-पीरियड्स के दौरान ज्यादा नमक के सेवन से बचें: माहवारी के दौरान आपको ऐसी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए, जिनमें नमक की उच्च मात्रा होती है। क्योंकि, यह खाद्य पदार्थ सूजन को बढ़ा सकते हैं। साथ ही यह ऐंठन का भी कारण बन सकता है। इसलिए मासिक धर्म के दौरान ज्यादा नमक के सेवन से बचना चाहिए।

-जंक फूड्स का ना करें सेवन: अपने मासिक धर्म के दौरान कुछ महिलाओं को बार-बार मूड स्विंग्स होते हैं। जिससे वह खुद को सुस्त महसूस करती हैं। ऐसे में कुछ महिलाएं जंक फूड खाना पसंद करती हैं। जंक फूड में चीनी और नमक की काफी अधिक मात्रा होती है, जो बेचैनी और सूजन का कारण भी बन सकते हैं।

-ज्यादा कॉफी ना पिएं: माहवारी के दौरान ज्यादा कॉफी नहीं पीनी चाहिए। क्योंकि, इसमें कैफीन की अधिक मात्रा होती है। जो ब्रेस्ट टेंडरनेस को बढ़ा सकती है। ऐसे में आपको ज्यादा कॉफी के सेवन से बचना चाहिए।

-धूम्रपान: जो महिलाएं पीरियड्स के दौरान धूम्रपान करती हैं, उन्हें असहनीय दर्द हो सकता है। वैसे तो धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। लेकिन पीरियड्स के दौरान धूम्रपान करने से बचना चाहिए।

-सेनेटरी पैड: कुछ महिलाएं अपने मासिक धर्म के दौरान पूरे दिन में केवल एक ही सेनेटरी पैड का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन ऐसा करने से योनि में इंफेक्शन हो सकता है, साथ ही यह बदबू का कारण भी बनता है। ऐसे में पीरियड्स के दौरान हर 4 से 6 घंटे में अपना पैड बदलते रहना चाहिए। इससे आपका स्वास्थ्य बेहतर रहता है।

Next Stories
1 मुंह का कसैला स्वाद हो सकता है डायबिटीज का शुरुआती संकेत, ऐसे चेक करें अपना ब्लड शुगर लेवल
2 यूरिक एसिड कंट्रोल करने में रामबाण से कम नहीं ये घरेलू उपाय, बाबा रामदेव से जानिये
3 रात में पूरी नींद लेकर तेज और स्वस्थ रखें अपना दिमाग
यह पढ़ा क्या?
X