ताज़ा खबर
 

क्या ग्रीन टी पीने से काबू में रहेगा ब्लड प्रेशर? जानें सच्चाई

Green Tea for High Blood Pressure: खराब कोलेस्ट्रॉल में सुधार करने के अलावा ग्रीन टी मोटापा कम करने में भी सहायक है। यह शरीर के फैट को बर्न करने में मदद करता है।

जिस भी व्यक्ति का ब्लड प्रेशर कम या ज्यादा होता है उसे डॉक्टर की सलाह से ग्रीन टी का सेवन जरूर करना चाहिए

High Blood Pressure: आज की लाइफस्टाइल में कम उम्र में लोग कई बीमारियों के शिकार हो जाते हैं। ब्लड प्रेशर भी एक ऐसी ही स्थिति है जिसका बढ़ना और घटना दोनों खतरनाक है। आंकड़ों की मानें तो करीब 33 फीसदी शहरी और 25 परसेंट ग्रामीण क्षेत्र के लोग उच्च रक्तचाप के मरीज हैं। वर्तमान समय में हर्बल ड्रिंक्स का क्रेज बढ़ा है, रोज सुबह उठकर लोग दूध वाली चाय की जगह ग्रीन टी ढूंढ़ते हैं। ये सिर्फ अपनी स्वाद के वजह से ही पॉपुलर नहीं हुए हैं, बल्कि कई लोग हर्बल पेयों का सेवन स्वास्थ्य फायदों के लिए भी करते हैं। ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में भी ग्रीन टी का सेवन फायदेमंद होता है।

बीपी कंट्रोल करने में मददगार: ग्रीन टी एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है और इसमें उच्च मात्रा में पॉलीफेनोल्स पाए जाते हैं। ये तत्व रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित रखते हैं। इसमें एंटी-हाइपरटेंसिव गुण मौजूद होते हैं जो ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करते हैं। ग्रीन टी में कैटेचिन्स नामक तत्व होता है जो लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन यानी बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। बता दें कि कोलेस्ट्रॉल अधिक होने से भी रक्तचाप का स्तर बढ़ जाता है।

खराब कोलेस्ट्रॉल में सुधार करने के अलावा ग्रीन टी मोटापा कम करने में भी सहायक है। यह शरीर के फैट को बर्न करने में मदद करता है। साथ ही बेली फैट भी कम करता है। बता दें कि मोटापा कई बीमारियों के शुरुआती कारणों में से एक होता है।

हेल्थ एक्सपर्ट्स के अलावा जिस भी व्यक्ति का ब्लड प्रेशर कम या ज्यादा होता है उसे डॉक्टर की सलाह से ग्रीन टी का सेवन जरूर करना चाहिए, जिससे उनका ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहे। इसमें फ्लेवनॉयड्स पाए जाते हैं जो खून के बहाव के दौरान धमनियों पर अतिरिक्त दबाव पड़ने से रोकने में मदद करते हैं।

इन हर्बल टी का सेवन भी होगा फायदेमंद: अपनी डाइट में तुलसी से बने चाय को शामिल करने से भी लाभ होगा। इसमें भी एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन्स पर्याप्त मात्रा में मौजूद होते हैं जो हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करते हैं। इसके अलावा, ब्लैक टी भी रक्तचाप काबू करने में सहायक है। एक शोध के मुताबिक ब्लैक टी में पाए जाने वाले तत्व ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करने में मददगार है। साथ ही, काली मिर्च से बनी चाय भी ब्लड प्रेशर के स्तर को कम करता है।

Next Stories
1 ब्लड शुगर कैसे कम करें? जानें डायबिटीज का घरेलू इलाज
2 शाकाहारियों के लिए प्रोटीन का खजाना होता है मूंगफली, जानें कब और कितना खाने से होगा फायदा
3 दांतों में दर्द से जल्द आराम पाने के लिए अपनाएं ये होम्योपैथिक उपाय, जानें किन बातों का रखें ध्यान
ये पढ़ा क्या?
X