शरीर में बढ़ गया है यूरिक एसिड का स्तर? जानिये क्या खाएं और क्या नहीं

हाई यूरिक एसिड के मरीजों को दही, जंक फूड्स, नॉनवेज, सोया मिल्क, दाल और चावल समेत ऐसी चीजों को सेवन नहीं करना चाहिए, जिनमें प्यूरीन की अधिक मात्रा होती है।

uric acid, high uric acid, hyperuricemia
पहले ये बीमारी केवल उम्रदराज लोगों को परेशान करती थी

आज की अस्वस्थ जीवन-शैली, खराब खानपान और फिजिकल एक्टिविटी की कमी के कारण लोग गंभीर बीमारियों का शिकार हो जाते हैं। जो बीमारियां पहले बड़े-बुजुर्गों को हुआ करती थीं, आज खराब लाइफस्टाइल के कारण युवा भी उसका शिकार हो रहे हैं। ऐसी ही एक समस्या है हाई यूरिक एसिड की। शरीर में मौजूद कुछ सेल्स और खाद्य पदार्थों से मिलकर प्यूरीन नामक प्रोटीन बनता है। यह शरीर के लिए एक बेस्ट प्रोडक्ट है।

यूं तो अधिकतर यूरिक एसिड किडनी द्वारा फिल्टर होने के बाद मूत्र मार्ग के जरिए बॉडी से बाहर निकल जाता है। लेकिन शरीर में जब इसकी मात्रा अधिक हो जाती है तो किडनी भी इसे फिल्टर करने में सक्षम नहीं रह पाती। इसके कारण यह क्रिस्टल्स के रूप में टूटकर हड्डियों के बीच इक्ट्ठा होने लगता है। हाई यूरिक एसिड की वजह से जोड़ों में दर्द, सूजन और लालिमा समेत कई तरह की समस्याएं होती हैं। इसके अलावा हाई यूरिक एसिड के कारण हार्ट अटैक, किडनी फेलियर और मल्टीपल ऑर्गन फेलियर जैसी जानलेवा स्थिति का खतरा भी बढ़ जाता है। ऐसे में यूरिक एसिड के मरीजों को अपने खानपान का विशेष रूप से ध्यान रखने की आवश्यकता होती है।

यूरिक एसिड के मरीज इन चीजों को खाने से करें परहेज: हाई यूरिक एसिड के मरीजों को दही, जंक फूड्स, नॉनवेज, सोया मिल्क, दाल और चावल समेत ऐसी चीजों को सेवन नहीं करना चाहिए, जिनमें प्यूरीन की अधिक मात्रा होती है।

दही: दही में प्रोटीन की मात्रा काफी अधिक होती है। ऐसे में हाई यूरिक एसिड के मरीजों को दही के सेवन से परहेज करना चाहिए। दही शरीर में ट्रांस फैट यूरिक एसिड की मात्रा को बढ़ाती है।

यूरिक एसिड के मरीज खा सकते हैं ये चीजें: हाई यूरिक एसिड के मरीज हरी सब्जियां, अंडा, चेरी, पेय पदार्थ और डेरी प्रोडक्ट्स आदि चीजों का सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा आप अपनी डाइट में ब्राउन राइस, ओट्स आदि चीजों को भी शामिल कर सकते हैं।

पानी: यूरिक एसिड के मरीजों को ज्यादा-से-ज्यादा पानी का सेवन करना चाहिए। इससे विषाक्त पदार्थ शरीर से बाहर हो जाते हैं।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।