ताज़ा खबर
 

कितना होना चाहिए नॉर्मल ब्लड शुगर लेवल, कौन से फूड्स हैं खतरनाक? जानिये

ब्लड शुगर लेवल का बढ़ जाना हमें डायबिटीज से ग्रसित करता है। कुछ फूड्स ऐसे होते हैं जो ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा देते हैं जिससे समस्या गंभीर हो जाती है, इसलिए इनसे दुरी बना लेनी चाहिए।

high blood sugar, diabetes, what not to eat in diabetesडायबिटीज में हम खानपान का ख्याल रख ब्लड शुगर को नार्मल रख सकते हैं

अगर आप डायबिटीज़ के मरीज़ हैं तो आपका ब्लड शुगर लेवल सामान्य से अधिक होना तय है। बढ़ा हुआ ब्लड शुगर लेवल कुछ समय बाद हमारे शरीर को नुक्सान पहुंचाने लगता है इसलिए ये जानना बेहद जरूरी है कि हमारे शरीर में ब्लड शुगर का लेवल कितना हो। हमें ये जानना भी जरूरी है कि हम किस तरह का भोजन करें जो हमारे ब्लड शुगर लेवल को खतरनाक स्तर तक न ले जाए क्योंकि कुछ फूड्स ऐसे होते हैं जो ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा देते हैं।

ये है नॉर्मल ब्लड शुगर लेवल- एक स्वस्थ व्यक्ति जिसने पिछले 8 घंटे या उससे अधिक समय से कुछ नहीं खाया, उसका नॉर्मल ब्लड शुगर लेवल 70-99 मिलीग्राम/डीएल के बीच होता है। वहीं खाना खाने के दो घंटे बाद ये बढ़कर 140 मिलीग्राम/ डीएल हो जाता है। अगर आपका ब्लड शुगर लेवल इससे एकदम ज्यादा या कम हो तो आप तुरंत डॉक्टर से परामर्श लें। अलग- अलग व्यक्तियों में ब्लड शुगर लेवल अलग- अलग हो सकता है।

ब्लड शुगर लेवल बढ़ा रहने से इंसान डायबिटीज़ से ग्रसित हो जाता है। डायबिटीज़ में आप क्या खाते हैं ये बहुत ज़्यादा मायने रखता है। दवाइयों के साथ- साथ कुछ फूड्स को खाने और कुछ से दूरी बनाने की सलाह दी जाती है। कुछ फूड्स हमारे ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाकर समस्या को और गंभीर कर देते हैं। ऐसे ही कुछ फूड्स हैं-

मिठाइयां और सॉफ्ट ड्रिंक्स- जो व्यक्ति डायबिटीज़ से पीड़ित है उसके लिए मीठी चीज़ें सबसे ख़तरनाक मानी जाती है। इनमें उच्च मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स के साथ फ्रुक्टोज होता है जो इंसुलिन के क्रिया को बुरी तरह प्रभावित करता है और डायबिटीज़ की समस्या को गंभीर बनाता है। इसके लिए आप ज़्यादा मीठे खाद्यान्नों, सोडा, सॉफ्ट ड्रिंक्स आदि से दूर रहें।

व्हाइट ब्रेड, चावल, पास्ता- ये सभी पदार्थ अधिक कार्बोहाइड्रेट्स युक्त प्रोसेस्ड फूड्स हैं। कई अध्ययनों में यह पाया गया है कि इनके सेवन से ब्लड शुगर लेवल अधिक बढ़ जाता है और वहीं इनकी जगह किसी कम कार्बोहाईड्रेट युक्त फूड के सेवन से ब्लड शुगर लेवल कम होता है। इनमें फाइबर की उपस्थिति नाममात्र की होती है जिस कारण ब्लड शुगर लेवल बढ़ता है।

शहद- शहद खाने से ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है। एक अध्ययन में यह देखा गया कि जिन लोगों को डाइबिटीज होने की संभावना थी, उनमें शहद खाने से ब्लड शुगर लेवल बढ़ गया। शहद और चीनी की जगह आप कम कार्बोहाईड्रेट युक्त मीठापन का प्रयोग करें।

सूखे मेवे- फलों का सेवन हमें हर तरह की बीमारियों से बचाता है लेकिन कुछ सूखे फलों का सेवन डायबिटीज़ में बेहद नुकसानदेह होता है। एक कप अंगूर में जहां 27.3 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है वहीं एक कप किशमिश (सूखा अंगूर) में 115 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है। इसका मतलब किशमिश में अंगूर की अपेक्षा चार गुना अधिक कार्बोहाईड्रेट की मात्रा होती है। इसलिए डायबिटीज़ रोगियों को किशमिश खाना पूरी तरह अवॉइड करना चाहिए और कम शुगर वाले ताज़े फल जैसे सेब, बेरी, नाशपाती आदि खाना चाहिए।

Next Stories
1 40 की उम्र के बाद पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं की इम्युनिटी होने लगती है कमज़ोर, ये इम्युनिटी बूस्टर फूड्स होते हैं फायदेमंद
2 कोरोना के स्वदेशी टीके ‘कोवैक्सीन’ पर क्यों खड़े हो रहे हैं सवाल? जानिये- क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स
3 नैचुरल तरीके से ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मददगार माने जाते हैं ये 8 घरेलू उपाय
ये पढ़ा क्या?
X