ताज़ा खबर
 

Corona से उबर रहे मरीजों की थाली में कौन से पोषक तत्व हैं जरूरी? जानें कैसी होनी चाहिए डाइट

Post Corona Care Tips: जिन मरीजों को खांसी या गले में खराश हो उन्हें भी मुलायम और गर्म खाना दें।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक रोगियों की डाइट में फिलहाल प्रोटीन की अधिकता होनी चाहिए

Covid Patients Diet: कोरोना वायरस की दूसरी लहर में हर उम्र के लोग संक्रमित हो रहे हैं। कुछ में जहां हल्के लक्षण नजर आ रहे हैं तो वहीं कई गंभीर मरीज भी सामने आ रहे हैं। कहीं लोग घर में रहकर ही मरीजों की दूर से देखभाल कर रहे हैं तो कई मरीज अस्पतालों में भी भर्ती हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने उन लोगों के लिए दिशा निर्देश जारी किये हैं जो अभी इस खतरनाक वायरस के संक्रमण से उबर रहे हैं। इसके मुताबिक एक हेल्दी और पोषक तत्वों से भरपूर डाइट मरीजों को जल्दी रिकवर करने में मदद करेगा। आइए जानते हैं विस्तार से –

प्रोटीन: स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक रोगियों की डाइट में फिलहाल प्रोटीन की अधिकता होनी चाहिए। उनकी थाली का 50 फीसदी भोजन ब्रांच्ड चेन अमीनो एसिड का सप्लीमेंट होना चाहिए। पहले दो तीन हफ्तों तक मरीजों को वे प्रोटीन (Whey protein) दें। अगर मुमकिन न हो तो मरीजों के पाचन क्षमता के मुताबिक उन्हें ताजी दही, पनीर या उबले अंडे भी दिये जा सकते हैं। मसल लॉस और रेस्पिरेटरी मसल्स की ताकत बढ़ाने में प्रोटीन मददगार है।

कार्ब्स: थाली में कार्ब्स 100 से 150 ग्राम से अधिक नहीं होने चाहिए, नहीं तो श्वसन तंत्र पर दबाव बढ़ सकता है। इसकी जगह पर दाल, दूध और सब्जियों को तरजीह दें। फलों के रस से भी परहेज करें। इसके अलावा, कैलोरीज के सेवन पर सीमा लगाएं।

फैट: शरीर में कैलोरीज को मेंटेन करने के लिए फैट के खुराक को बढ़ाया जा सकता है। मीडियम चेन फैटी एसिड का इस्तेमाल करें, साथ ही ओमेगा-3 फैटी एसिड्स का भी ज्यादा सेवन करें। इससे इम्युन की प्रतिक्रिया बेहतर होगी और सूजन भी कम होगा। ऐसे में नारियल तेल, घी, मक्खन, राइस ब्रैन ऑयल और ऑलिव ऑयल का उपयोग करें।

मिनरल्स और विटामिन्स: मरीजों को संक्रमण से जल्दी उबरने के लिए स्वास्थ्य विशेषज्ञ भी मल्टी विटामिन के सेवन की सलाह देते हैं। डाइट में विटामिन बी, सी और डी, जिंक व सेलेनियम से भरपूर खाने को अहमियत दें।

प्रोबायोटिक्स: प्रोबायोटिक्स शरीर में हेल्दी गट बैक्टीरिया के लिए जिम्मेदार होते हैं। साथ ही, इम्युनिटी बेहतर करने में भी ये मददगार हैं।

फ्लूइड्स और सॉल्ट: आमतौर पर बुखार होने में भी शरीर में पानी की कमी देखने को मिलती है, ऐसे में कोरोना के मरीजों को तरल पदार्थ ज्यादा लेने चाहिए। छाछ, सूप, नारियल पानी, सॉल्टेड नींबू पानी और ओआरएस पीयें।

कोरोना का प्रभाव कई महीनों तक रहता है, इसके कारण स्वाद कम होना या खाना निगलने में परेशानी की शिकायत लोगों को हो सकती है। ऐसे में सॉलिड फूड कम खाएं। वहीं, जिन मरीजों को खांसी या गले में खराश हो उन्हें भी मुलायम और गर्म खाना दें।

Next Stories
1 शुगर के मरीजों के लिए कौन-सी दाल खाना होगा फायदेमंद, जानिये
2 गर्मियों में इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार साबित होंगे ये 5 समर ड्रिंक्स, रोज पीयें इतना
3 फैटी लिवर से निजात दिलाने में कारगर है करी पत्ता, जानिये इस्तेमाल का सही तरीका
यह पढ़ा क्या?
X