scorecardresearch

जानिए फाइबर हमारे शरीर के लिए क्यों है जरूरी, इसकी कमी के क्या-क्या हैं नुकसान

फाइबर एक तरह का कार्बोहाइड्रेट होता है, जिसमें पोषण तो काफी कम होता है लेकिन यह पाचन संबंधी प्रक्रियाओं को संचालित करने में काफी मदद करता है।

Fibre, What Is Fibre, fibre foods, fibre rich food, benefits of fibre foods, benefits of fibre for weight loss, benefits of fibre for constipation, Health Tips In Hindi, Health And Lifestyle News In Hindi, Jansatta
प्रतीकात्मक चित्र

हमारे शरीर की अच्छी सेहत के लिए कई तरह के पोषक तत्वों वाले आहार लेने पड़ते हैं। इन आहारों का पाचन ठीक ढंग से होना भी जरूरी होता है। फाइबर शरीर में अच्छी तरह से पाचन के लिए जिम्मेदार होते हैं। फाइबर से हमें किसी भी तरह का पोषण नहीं मिलता लेकिन यह हमारे शरीर के लिए बेहद आवश्यक तत्व होता है। फाइबर आपके पेट में काफी देर तक बना रहता है, जिसकी वजह से आपको बार-बार भूख नहीं लगती है। फाइबर का यह गुण आपको वजन कम करने में काफी मदद करता है। फाइबर के फायदों के बारे में जानने से पहले आपको यह भी जानना बेहद जरूरी है कि फाइबर है क्या।

क्या है फाइबर – फाइबर एक तरह का कार्बोहाइड्रेट होता है, जिसमें पोषण तो काफी कम होता है लेकिन यह पाचन संबंधी प्रक्रियाओं को संचालित करने में काफी मदद करता है। फाइबर दो तरह का बताया जाता है, पहला घुलनशीन फाइबर और दूसरा अघुलनशील फाइबर। घुलनशील फाइबर से युक्त आहार पानी में आसानी से घुल जाते हैं। यह शरीर के अंदर घुलकर एक तरह का गाढ़ा तरल यानी कि जैल बनाते हैं,जो कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने का काम करता है। यह ब्लड शुगर तथा डायबिटीज के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके अलावा अधुलनशील फाइबर शरीर में अपशिष्ट भोजन को साफ करने में काम आते हैं। अघुलनशील फाइबर वजन को नियंत्रित करने में उपयोग में लाए जाते हैं।

किनमें पाया जाता है फाइबर – फाइबर से युक्त आहार का रोजाना सेवन करना अच्छी सेहत के लिए बेहद जरूरी है। खासकर शुगर, मोटापा और डायबिटीज के मरीजों को हर दिन फाइबरयुक्त आहार का सेवन करना चाहिए। फाइबर चोकर सहित गेहूं के आटे, हरी पत्तेदार सब्जियों, सेब, पपीता, अंगूर, खीरा, टमाटर, प्याज, छिलके वाली दालों, सलाद, शकरकंद, ईसबगोल की भूसी, दलिया, बेसन और सूजी जैसे खाद्य पदार्थो में पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है।

फाइबर की कमी होने पर क्या होगा – फाइबर की उचित मात्रा न मिल पाने से शरीर मोटापे का शिकार हो जाता है। पेट साफ न हो पाने की वजह से मुंह में छाले हो जाना आम बात है। फाइबर की कमी से कब्ज, गैस, पेट से संबंधित अन्य बीमारियां जैसे अल्सर आदि से जूझना पड़ सकता है। इसके अलावा आंतों का कैंसर, बवासीर, दिल की बीमारियां भी फाइबर की उचित मात्रा का सेवन न करने से हो सकती हैं।

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X