नारियल पानी से लेकर मेथी की चाय तक, Blood Sugar कंट्रोल करने में मददगार हो सकते हैं ये 5 ड्रिंक्स

माना जाता है कि विनेगर में मौजूद एसिटिक एसिड एंटीग्लाइसेमिक इफेक्ट से भरपूर होता है

diabetes, high blood sugar, Diabetes drinks
स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार उच्च रक्त शर्करा के मरीजों के लिए नारियल पानी का सेवन फायदेमंद होता है

Drinks that lowers blood sugar level: डायबिटीज मेटाबॉलिक बीमारियों का समूह है जो शरीर में इंसुलिन के न बनने या फिर सही तरीके से इस्तेमाल नहीं होने पर लोगों को अपनी चपेट में लेती है।

बता दें कि नॉर्मली लोग जो भी खाते-पीते हैं वो शुगर में कन्वर्ट हो जाता है। ग्लूकोज के रूप में ही शरीर भोजन से एनर्जी प्राप्त करता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक इंसुलिन हार्मोन बॉडी सेल्स में ग्लूकोज पहुंचाने में अहम भूमिका निभाता है।

लेकिन डायबिटीज रोगियों की कोशिकाओं में ग्लूकोज नहीं पहुंच पाता है और ब्लड में ही रह जाता है। इससे हाई ब्लड शुगर की परेशानी हो जाती है जो किडनी, आंखों, हृदय और शरीर के दूसरे अंगों को डैमेज कर सकती है।

कई शोध में इस बात का पता चलता है कि पानी ब्लड को पतला करता है जिससे रक्त शर्करा का स्तर नियंत्रित रहता है। ऐसे में ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में तरल पदार्थों का सेवन फायदेमंद हो सकता है। आइए जानते हैं ऐसे 5 ड्रिंक्स के बारे में जो हाई ब्लड शुगर के मरीजों के लिए लाभकारी सिद्ध होगा।

नारियल पानी: स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार उच्च रक्त शर्करा के मरीजों के लिए नारियल पानी का सेवन फायदेमंद होता है। ये हेल्दी ड्रिंक खनिज तत्वों से भरपूर होता है, साथ ही इसमें मैग्नीशियम सॉल्ट मौजूद होता है। इस तत्व के प्रभाव से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और ग्लूकोज बॉडी सेल्स में पहुंचने में सक्षम हो जाता है। नारियल पानी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है और डाइटरी फाइबर व अमीनो एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो शुगर लेवल कंट्रोल में रखने में मदद करता है।

अजवाइन पानी: एक शोध के मुताबिक टाइप 2 डायबिटीज को कंट्रोल करने में अजवाइन फायदेमंद होता है। ये वजन घटाने और कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करने में भी फायदेमंद होता है।

भिंडी का पानी: हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार सौ ग्राम भिंडी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स महज 7.45 ग्राम होता है। साथ ही, इसमें पोटैशियम, एंटी-ऑक्सीडेंट्स और डाइटरी फाइबर पाए जाते हैं जो ब्लड शुगर के स्तर पर नियंत्रण पाने में मददगार है। भिंडी मेटाबॉलिज्म को मजबूत बनाता है जिससे डायबिटीज से ग्रस्त होने का खतरा कम होता है।

मेथी की चाय: स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक मेथी में 4-हाइड्रॉक्सिसिलुसीन नामक एक अमीनो एसिड होता है जिसे मधुमेह रोधक गुणों से भरपूर माना जाता है। शरीर में इंसुलिन की मात्रा को बढ़ाने में भी मेथी का सेवन फायदेमंद होता है। इस ड्रिंक में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जो ब्लड शुगर पर निगरानी रखता है।


सेब का सिरका: माना जाता है कि विनेगर में मौजूद एसिटिक एसिड एंटीग्लाइसेमिक इफेक्ट से भरपूर होता है। ये फास्टिंग ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में सहायक होता है। एक गिलास पानी में 2 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर सोने से पहले सेवन करें।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।