टमाटर- नींबू के सेवन से कम हो सकता है यूरिक एसिड, जानें और भी घरेलू उपाय

किसी वजह से ज्यादा यूरिक एसिड बनने लगे या फिर किडनी एसिड को फिल्टर नहीं कर पाए तो यूरिक एसिड बढ़ने से हड्डियों के जोड़ो में तेज दर्द होने लगता है।

lemon can increase uric acid problems
विटामिन सी से भरपूर फल खाएं। (File Photo)

दुनिया भर में बदलते लाइफस्टाइल के चलते यूरिक एसिड के बढे़ हुए स्तर से काफी लोग परेशान है। यूरिक एसिड बढ़ने से परेशान लोगों के लिए आवश्यक है कि वह अपने जीवनशैली में बदलाव करें। आजकल यूरिक एसिड के बढ़ने से लोगों में गाउट जैसी बीमारी की समस्या हो सकती है। यूरिक एसिड बढ़ने के कारण व्यक्ति को भयंकर दर्द और सूजन के साथ जोड़ो में दौरे (Gout Attack) पड़ते है। गाउट गठिया एक तरह का वात या आर्थराइटिस है, जो जोड़ो में यूरिक एसिड (Uric Acid) के जमा होने से होता है। आर्थराइटिस के 20 से भी ज्यादा प्रकार है।

दरअसल हम जो कुछ भी खाते हैं, उससे यूरिक एसिड बनता है। वैसे तो किडनी इस एसिड को फिल्टर करती है और बॉडी के बाहर निकाल देती है। यूरिक एसिड हमारे शरीर में मौजूद प्यूरीन नाम के प्रोटीन के ब्रेकडाउन से बनता है। अगर समय पर आपने इसका इलाज नहीं करवाया तो यूरिक एसिड जमा होकर दूसरे अंगों को नुकसान पहुंचा सकता हैं।

एसिड के बढ़ने से कई बार गठिया, किडनी की पथरी और किडनी फेल होने जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं जो बढ़े हुए यूरिक एसिड की मात्रा को कम करने में मददगार होते हैं। आज ऐसे ही कुछ घरेलू नुस्खों के बारे में हम आपको बता रहे हैं।

ऑलिव आयल: अर्थराइटिस से जूझ रहे लोगों के लिए जैतून का तेल बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसमें कई तरह के एंटीऑक्सिडेंट्स और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं जो यूरिक एसिड के लेवल को कम करते हैं। अगर आपको हाई यूरिक एसिड की समस्या है तो आज से ही अपना खाना जैतून के तेल में बनाना शुरू कर दें। गठिया के सूजन और दर्द से भी ये राहत दिलाता है।

टमाटर: यह एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसमें प्यूरिन की मात्रा सबसे कम होती है। इसमें तरह के एंटीऑक्सिडेंट्स मौजूद होते हैं। टमाटर का नियमित सेवन करने से हम गठिया रोग से बच सकते हैं। इसमें कई तरह के विटामिन्स होते हैं जो गठिया में हो रहे दर्द और सूजन को दूर करने में मददगार होते हैं।

नींबू: नींबू विटामिन सी से भरपूर होता है ऐसे में हाई यूरिक एसिड से जूझ रहे लोगों को नींबू का सेवन जरूर करना चाहिए। शरीर में मौजूद यूरिक एसिड को नींबू अपने साथ घुला लेता है और एसिड को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है। आप खाने से पहले आधे नींबू को एक गिलास पानी में निचोड़ लें और पी लें। चाहें तो इसका इस्तेमाल शर्बत में भी कर सकते हैं।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट