ताज़ा खबर
 

Uric Acid: इन 5 आसान तरीकों से पा सकते हैं यूरिक एसिड से छुटकारा, जानिये

Uric Acid Home Remedies: बथुए का जूस यूरिक एसिड को कम करने का एक कारगर उपाय है। इसके पत्तों का जूस निकालकर हर सुबह खाली पेट सेवन करें।

Uric Acid, uric acid food, uric acid food chart, uric acid food to eatइस बीमारी से बचने के लिए आपको अपने खान-पान पर खास ध्यान देने की जरूरत है।

यूरिक एसिड शरीर में प्यूरीन के टूटने से बनता है । प्यूरीन हमारे खाद्य पदार्थ और शरीर के सेल्स में मौजूद होता है। आमतौर पर यूरिक एसिड यूरिन द्वारा बाहर निकल जाता है लेकिन कई बार यह शरीर में ही जमा होने लगता है और इसकी मात्रा बढ़ने लगती है। जब हमारे शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है, तब मांसपेशियों में सूजन, जोड़ो में दर्द आदि समस्याएं आम हो जाती हैं। इस समस्या को हम आर्थराइटिस यानी गठिया कहते हैं। ऐसे में शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड की मात्रा को घटाकर हम इस रोग से छुटकारा पा सकते हैं। हम आपको 5 ऐसे आसान से घरेलू उपाय बताते हैं जिससे शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को कम किया जा सकता है।

अजवायन का सेवन:  अजवायन हर किचन में आसानी से उपलब्ध होता है। इसमें मौजूद एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण यूरिक एसिड को कम करने में बहुत फायदेमंद साबित होता है। आप इसे अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं अथवा गुनगुने पानी के साथ इसका सेवन यूरिक एसिड को कम करता है। इसके अलावा आप सूती कपड़े में अजवायन की छोटी पोटली बनाकर उसे गरम कर लें और प्रभावित स्थान पर सिकाई करें। इससे यूरिक एसिड की बढ़ी हुई मात्रा शरीर से कम होने लगती है।

हाई फाइबर युक्त भोजन: हाई फाइबर युक्त भोज्य पदार्थों के सेवन से यूरिक एसिड को नियंत्रित करने में बहुत मदद मिलती है। आप ओटमील, दलिया, बीन्स, ब्राउन राइस को अपने भोजन में शामिल करें। ज़्यादा तला भुना खाने से बचें और बाहर का खाना बिल्कुल कम कर दें।

अखरोट का सेवन: अखरोट का प्रतिदिन सेवन यूरिक एसिड को कम करता है लेकिन इसकी मात्रा सीमित होनी चाहिए। दिन में 2 या 3 अखरोट खाएं। इसमें प्रोटीन, विटामिन्स, फैट्स और मिनरल्स तो होते ही है साथ ही एंटी ऑक्सीडेंट, पोली अनसैचुरेटेड फैटी एसिड भी इसमें मौजूद होते हैं। ये सभी तत्व शरीर के यूरिक एसिड को बाहर निकालने में मददगार होते हैं।

जैतून का तेल : यह एसिड कंट्रोल में बेहतरीन माना जाता है। खाने में इसका सेवन आपको यूरिक एसिड की बढ़ती मात्रा से बचाता है। जैतून का तेल विटामिन-ई से भरपूर होता है।

बथुए का जूस: बथुए का जूस यूरिक एसिड को कम करने का एक कारगर उपाय है। इसके पत्तों का जूस निकालकर हर सुबह खाली पेट सेवन करें। उसके दो घंटो तक किसी अन्य चीज का सेवन न करें। ऐसा प्रतिदिन करने से आपके शरीर से यूरिक एसिड की मात्रा कम हो सकती है। लेकिन अगर आपको दिक्कत ज्यादा है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 डायबिटीज के जो मरीज लेते हैं इंसुलिन इंजेक्शन का सहारा, वो इन 4 बातों का जरूर रखें ख्याल
2 हाई बीपी कंट्रोल करने में कारगर है भिंडी, अधिकतम फायदे के लिए ऐसे करें यूज
3 Diabetes के मरीजों के लिए फायदेमंद है अश्वगंधा, जानिये कैसे करें डाइट में शामिल
ये पढ़ा क्या?
X