ताज़ा खबर
 

महिलाओं और पुरुषों में कितना होना चाहिए Uric Acid का सामान्य रेंज? जानिये यूरिक एसिड कंट्रोल करने के 5 आसान उपाय

Uric Acid Normal Range: महिलाओं में इसका नॉर्मल लेवल 2.4 से 6.0 mg/dl होता है, तो वहीं, पुरुषों में 3.4 से 7.0 mg/dl नॉर्मल रेंज होती है

uric acid, uric acid treatment, uric acid normal range, how to control uric acidजब शरीर में यूरिक एसिड बढ़ जाता है तो ये कई बीमारियों का कारण बन सकता है

High Uric Acid: शरीर में यूरिक एसिड (Uric Acid) के बढ़ने से कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं। यूरिक एसिड का लेवल अचानक बढ़ने से गठिया के साथ-साथ दिल और किडनी से जुड़ी समस्याएं भी होने लगती हैं। अर्थराइटिस के मरीजों के लिए यूरिक एसिड का लेवल बढ़ना काफी खतरनाक होता है, क्योंकि इसके कारण जोड़ों में दर्द, अकड़न और सूजन जैसी परेशानियां होने लगती हैं।

यूरिक एसिड एक प्रकार का केमिकल होता है, जो हड्डियों के बीच जमा होने लगता है। यह शरीर में तब बनता है, जब शरीर प्यूरिन नाम के केमिकल को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ता है। यूं तो यूरिक एसिड शरीर में मूत्र मार्ग के रास्ते से बाहर निकल जाता है, लेकिन जब शरीर में इसकी मात्रा ज्यादा हो जाती है, तो यह खून में मिल जाता है, जिसके कारण शरीर में कई बीमारियां बनने लगती हैं।

यूरिक एसिड की सामान्य रेंज: हर व्यक्ति में यूरिक एसिड की रेंज अलग-अलग होती है। महिलाओं में इसका नॉर्मल लेवल 2.4 से 6.0 mg/dl होता है, तो वहीं, पुरुषों में 3.4 से 7.0 mg/dl नॉर्मल रेंज होती है।

शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड को घरेलू उपायों से भी कंट्रोल किया जा सकता है। खानपान और लाइफस्टाइल बदलकर भी इस गंभीर समस्या से निपटा जा सकता है। तो आइए बताते हैं, यूरिक एसिड कंट्रोल करने के कुछ आसान और घरेलू उपाय।

सेब का सिरका करेगा यूरिक एसिड को कंट्रोल: वैसे तो यह कहावत आम है कि एक सेब रोजाना खाने से व्यक्ति को डॉक्टर की आवश्यकता नहीं रहती। लेकिन सेब के साथ ही इसका सिरका भी शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है। सेब का सिरके शरीर में यूरिक एसिड कंट्रोल करने का काम करता है, क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी- इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं। यह शरीर में पीएच के लेवल को बढ़ा देता है, जिससे खून में मिले यूरिक एसिड की मात्रा कम होने लगती है। इसके अलावा नींबू के रस का सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के डालकर सेवन करने से भी यूरिक एसिड की मात्रा शरीर में कम हो जाती है।

अजवाइन: अजवाइन का इस्तेमाल यूं तो सब्जी में छोंक लगाने के लिए किया जाता है। अजवाइन यूरिक एसिड को कंट्रोल करने का रामबाण उपाय है। बढ़े हुए यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए रोजाना सुबह खाली पेट अजवाइन का पानी पीना चाहिए। इसमें मौजूद ऑमेगा 3 यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मदद करता है।

फाइबर युक्त खाना: यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए फाइबर से भरपूर खाने का सेवन करना चाहिए। इससे शरीर को काफी फायदा होता है। संतरा, सेब, स्ट्रॉबेरी और साबुत अनाज जैसी चीजों में फाइबर होता है। इन पदार्थों का इस्तेमाल करने से शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड को कंट्रोल किया जा सकता है।

गेहूं का ज्वार होता है फायदेमंद: शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए गेहूं के ज्वार का सेवन करना काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। क्योंकि यह विटामिन सी, क्लोरोफिल और फाइटोकेमिकल्स से भरपूर होता है। गेहूं का ज्वार आपके शरीर को दूसरे पोषक तत्व भी देता है, जो आपकी सेहत का पूरी तरह से ध्यान रखते हैं। इसका सेवन नींबू के रस में दो चम्मच गेहूं का ज्वार मिलाकर करना चाहिए।

बथुए का पत्तों का करें सेवन: यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए बथुए के पत्ते भी लाभदायक साबित होते हैं। बथुए के पत्ते का जूस निकालकर रोजाना सुबह खाली पेट पिएं। ध्यान रहे, इसके 2 घंटे बाद तक कुछ ना खाएं। रोजाना बथुए के पत्तों के जूस का सेवन करने से, शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा संतुलित हो जाएगी।

Next Stories
1 शरीर में दिखें ये 7 बदलाव तो समझ जाएं इम्युनिटी हो गई है कमजोर, जानें इसे मजबूत करने के तरीके
2 क्या है डायबिटीज, कैसे किया जा सकता है इसे नियंत्रित – जानें इस बीमारी से जुड़ी सभी जरूरी बातें
3 विश्व परिक्रमा: कोरोना का ज्यादा संक्रामक स्वरूप सामने आया
ये पढ़ा क्या?
X