ताज़ा खबर
 

Uric Acid को कंट्रोल करने में मददगार है लौकी का जूस, डाइट में शामिल करने का तरीका जान लीजिये…

लौकी के जूस में मौजूद पोषक तत्व यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मदद करता है। इसमें विटामिन-सी, बी और आयरन होता है जो शरीर में यूरिक एसिड को कंट्रोल करता है। आइए जानते हैं यूरिक एसिड को और कैसे कंट्रोल किया जा सकता है।

uric acid in hindi, uric acid, Gaurd Juice for uric acid, uric acid diet, uric acid diet in hindi, uric acid test, uric acid pain, uric acid reason, uric acid diet plan, uric acid diet chart in hindi, uric acid diet in hindi, uric acid diet controlलौकी का जूस यूरिक एसिड कंट्रोल करता है

यूरिक एसिड की समस्या आम हो गई है। प्यूरिन नामक तत्व के टूटने से शरीर में यूरिक एसिड बनता है। जब किडनी अपनी फिल्टर करने की क्षमता कम कर देता है तो शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने लगता है, जिससे कई परेशानियां होने लगती हैं। शरीर में यूरिक एसिड के बढ़ने से कई स्वास्थ्य समस्याएं होने लगती हैं जैसे- हृदय रोग, किडनी स्टोन, हाई ब्लड प्रेशर, गठिया इत्यादि। ऐसे में यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए सबसे जरूरी है अपने खान-पान पर ध्यान देना। लौकी के जूस में मौजूद पोषक तत्व यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मदद करता है। आइए जानते हैं यूरिक एसिड को और कैसे कंट्रोल किया जा सकता है।

– लौकी का जूस यूरिक एसिड को कंट्रोल करता है। इसमें विटामिन-सी, बी और आयरन होता है जो शरीर में यूरिक एसिड को कंट्रोल करता है, साथ ही गाउट की समस्या को भी होने से रोकता है।

– रोजाना खाली पेट नींबू पानी पिएं। नींबू में साइट्रिक एसिड मौजूद होता है जो यूरिक एसिड को कंट्रोल रखने में मदद करता है।

– लो फैट मिल्क या फिर डेयरी प्रोडक्ट भी यूरिक एसिड के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है। इसके अलावा यह जोड़ों में होने वाले दर्द और सूजन से भी राहत दिलाने में मदद करता है।

– अंगूर, शिमला मिर्च भी यूरिक एसिड के मरीज अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इनमें एंटीऑक्सीडेंट उच्च मात्रा में मौजूद होता है जो शरीर में यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मदद करता है।

– बेकिंग सोडा शरीर में यूरिक एसिड के लेवल को कम करता है। यह शरीर में नेचुरल एल्कलाइन स्तर को बनाए रखता है जिससे यूरिक एसिड नियंत्रित रहता है। साथ ही गाउट की समस्या को भी बढ़ने से रोकता है।

– ब्राउन राइस, दलिया भी यूरिक एसिड के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है क्योंकि इनमें मौजूद पोषक तत्व यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मदद करता है।

– चेरी का जूस यूरिक एसिड से होने वाली गाउट की समस्या को बढ़ने से रोकता है। साथ ही किडनी स्टोन की समस्या में भी यह काफी प्रभावी है। इसके अलावा गाउट के कारण होने वाले दर्द और सूजन से राहत दिलाने में भी मदद करता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Coronavirus: हैरी पॉटर की लेखक ने जीती कोरोना से जंग, सांस की ये एक्सरसाइज बनी जीवनदान, देखें VIDEO
2 Health Horoscope Today, 9 April 2020: कुंभ राशि वाले लंबी बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं, वहीं कर्क राशि वालों की सेहत बिगड़ सकती है
3 Coronavirus: अब प्राइवेट लैब में मुफ्त में होगी कोरोना वायरस की जांच, जानिये- कहां-कहां है सुविधा