Uric Acid कंट्रोल करने के ये 8 तरीके साबित हो सकते हैं असरदार, जानें

High Uric Acid Natural Remedy: बॉडी में इंसुलिन लेवल अगर ज्यादा रहता है तो इससे यूरिक एसिड के स्तर में भी वृद्धि आती है। ऐसे में इसे बैलेंस करना आवश्यक है।

Uric Acid, Uric Acid Remedy, Uric Acid control
प्यूरीन से भरपूर फूड्स जैसे कि मीट, सीफूड और सब्जियों के सेवन से बचना चाहिए

High Uric Acid: यूरिक एसिड एक केमिकल कंपाउंड है जो प्यूरीन युक्त फूड्स को पचाने से प्राकृतिक रूप से रिलीज होता है। ये वेस्ट प्रोडक्ट कार्बन और नाइट्रोजन एटम से बनता है। आमतौर पर इस मॉलीक्यूल को किडनी शरीर से फ्लश आउट कर देता है।

लेकिन स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि जब लोग अपनी डाइट में प्यूरीन युक्त फूड्स अधिक मात्रा में शामिल करते हैं तो इससे यूरिक एसिड को बाहर निकालने की प्रक्रिया बाधित होती है। ऐसे में शरीर में यूरिक एसिड लेवल ज्यादा हो जाता है जिसे हाइपरयूरिसेमिया कहते हैं।

इससे ग्रस्त लोगों को कुछ स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने पर यूरिन में खून आना, जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द, यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन, पेशाब करने में दिक्कत, जोड़ों में सूजन और अकड़न महसूस होने लगती है। हालांकि, स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार कुछ उपायों का इस्तेमाल करके परेशानी कम हो सकती है।

कम खाएं प्यूरीन युक्त फूड्स: इस प्रोटीन को डाइजेस्ट करने से बॉडी में यूरिक एसिड निकलता है। ऐसे में प्यूरीन से भरपूर फूड्स जैसे कि मीट, सीफूड और सब्जियों के सेवन से बचना चाहिए।

खूब पीयें पानी: हाइड्रेटेड रहने से किडनी को हेल्दी रखने में मदद मिलती है। इससे यूरिक एसिड को फ्लश आउट करना आसान होता है। ऐसे में दिन भर में 8 से 10 गिलास पानी पीना चाहिए।

मीठे फूड्स और ड्रिंक्स से रहें दूर: यूरिक एसिड बढ़ने में शुगर की भूमिका भी होती है, खासकर फ्रुक्टोज प्यूरीन के मेटाबॉलिज्म को बढ़ा देता है। ये वजन बढ़ाता है, शरीर में रक्त शर्करा के स्तर में भी वृद्धि लाता है। ऐसे में ज्यादा मीठा खाने या पीने से बचना चाहिए।

वजन पर रखें नियंत्रण: फैट सेल्स हाई यूरिक एसिड के लिए जिम्मेदार होते हैं, जिन लोगों का वजन ज्यादा होता है उनकी किडनी शरीर से यूरिक एसिड को फ्लश नहीं कर पाता है। ऐसे में हेल्दी वजन मेंटेन करना जरूरी है।

फाइबर रिच फूड्स खाएं: शरीर में रक्त शर्करा और इंसुलिन के स्तर को बेहतर करने में फाइबर युक्त भोजन करना चाहिए। इससे यूरिक एसिड लेवल कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

इंसुलिन लेवल बैलेंस करें: बॉडी में इंसुलिन लेवल अगर ज्यादा रहता है तो इससे यूरिक एसिड के स्तर में भी वृद्धि आती है। ऐसे में इसे बैलेंस करना आवश्यक है।

कम लें तनाव: तनाव और घबराहट से शरीर में सूजन ज्यादा होती है जो बदले में हाइपरयूरिसेमिया के खतरे को बढ़ावा देती है।

दवाई का रखें ध्यान: हेल्थ एक्सपर्ट्स मानते हैं कि कुछ दवाइयों के सेवन से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है। ऐसे में कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट