ताज़ा खबर
 

कमजोर फेफड़ों को कोरोना वायरस से है अधिक खतरा, जानें- कैसे रखें Lungs को हेल्दी

Home Remedies for Healthy Lungs: नमक पानी से गार्गल करना भी स्वस्थ फेफड़ों के लिए उपयोगी है। साथ ही साथ, आप एक बर्तन में गर्म पानी करके भाप भी ले सकते हैं।

पहले से फेफड़ों से संबंधित बीमारी से पीड़ित और कमजोर इम्यूनिटी के लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमण का खतरा ज्यादा है

Home Remedies for Healthy Lungs: कोरोना वायरस का कहर दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है। पूरी दुनिया में 6 लाख से भी अधिक लोगों को इस वायरस ने अपना शिकार बना लिया है। भारत में भी कोरोना वायरस के मरीजों का आंकड़ा हजार पार कर चुका है। कई देश इस वैश्विक महामारी का इलाज ढूंढ़ने में जुटे हुए हैं लेकिन अब तक पूरी तरह से सफलता नहीं मिल पाई है। ऐसे में इस वायरस को मात देने के लिए घर के अंदर रहकर साफ-सफाई का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के डायरेक्टर जनरल डॉ. टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस के अनुसार वैसे लोग जो पहले से फेफड़ों से संबंधित बीमारी से पीड़ित हैं और जिनकी इम्यूनिटी कमजोर है, उन्हें इस वायरस से संक्रमण का खतरा ज्यादा है। ऐसे में आइए जानते हैं अपने फेफड़ों को कैसे रखें मजबूत-

क्यों होता है ज्यादा खतरा: वेलनेस कोच और न्यूट्रिशनिस्ट ल्यूक कॉटिन्हो ने हाल में ही इंस्टाग्राम पर बताया कि हमारे फेफड़ों में म्यूकस पहले से मौजूद रहते हैं जो इम्यूनिटी को बनाए रखने में रक्षा तंत्र का काम करते हैं। अगर शरीर में कुछ कीटाणु चले जाते हैं तो म्यूकस इसे शरीर में जाने से रोकता है और छींक या खांसी के जरिये उसे बाहर निकाल देता है। लेकिन अस्थमा, निमोनिया, ब्रोंकाइटिस, सीओपीडी के मरीजों में म्यूकस की मात्रा अधिक होती है जो कि नुकसानदेह है। अत्यधिक म्यूकस शरीर को संभावित वायरल, बैक्टीरिया और पैथोजेंस के लिए “प्रजनन भूमि”(breeding ground) बनाता है।

फेफड़ों को मजबूत बनाती है मेथी: ल्यूक ने इंस्टाग्राम पर साझा किए गए इस वीडियो में बताया है कि मेथी के दाने फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए बड़े फायदेमंद होते हैं। यह म्यूकस को तोड़ने और शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है। एक चम्मच मेथी दाने को थोड़े से पानी में 4-5 मिनट तक उबालें और फिर इसे छानकर गर्म-गर्म ही पी लें। मेथी की ये चाय आपके फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए अच्छी मानी जाती है। आप दिन में 1-2 कप मेथी की चाय पी सकते हैं। ध्यान रखें इसमें शहद या चीनी न मिलाएं।

 

View this post on Instagram

 

Breaking down excess mucous and keeping your lung and immune system strong

A post shared by Luke Coutinho – Lifestyle (@luke_coutinho) on

फेफड़ों के लिए जरूरी है प्राणायाम: कोच के अनुसार प्राणायाम और डीप ब्रीदिंग भी म्यूकस को तोड़ने में कारगर है। फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए प्राणायाम से बेहतर कोई उपाय नहीं है। फेफड़ों और श्वसन तंत्र को स्वस्थ रखने के लिए ही प्राणायाम की खोज की गई थी। प्राणायाम से आपके फेफड़े मजबूत होते हैं और इनकी कार्यक्षमता बढ़ती है। इसे करना भी बेहद आसान है और सभी उम्र के लोग इसे कर सकते हैं। प्राणायाम करने के लिए सबसे पहले जमीन पर पीठ को सीधी करके बैठ जाएं। अपने आंखों को बंद करें और हाथों को ज्ञान मुद्रा में ले आएं। अब अपने नाक से बाहर की वायु को धीरे-धीरे खींचें और पेट में हवा को भरने दें। इस दौरान आपका पेट और सीना हवा से फूल जाना चाहिए। अब 5 सेकेंड तक सांसों को रोककर रखें और फिर धीरे-धीरे बाहर छोड़ दें। इस क्रिया को दिन में कम से कम 10 बार करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 Health Horoscope Today 30 March 2020: मिथुन वालों को पेट से जुड़ी समस्या हो सकती है, वहीं मेष वाले बिल्कुल फिट रहेंगे
2 क्या धूम्रपान करने से हो सकता है कोरोना वायरस? WHO ने बताया किसे है इस वायरस से अधिक खतरा, जानिए कितने सुरक्षित हैं आप
3 लॉकडाउन के दौरान स्ट्रेस से पड़ सकता है दिल पर असर, एक्सपर्ट्स से जानें कैसे रखें हार्ट को हेल्दी