ताज़ा खबर
 

NIPAH VIRUS: भारत में फिर पैर पसार रहा खतरनाक निपाह वायरस, इन उपायों से खुद को रखें सेफ

Nipah virus treatment: निपाह वायरस एक ऐसा वायरस है तो जानवरों से फल और फलों से इंसान में फैलता है। यह वायरस सीधे इंसान के दिमाग को प्रभावित करता है। इसके अलावा यह वायरस एक इंसान से दूसरे इंसान में भी फैल सकता है।

निपाह वायरस (Source: PTI)

Nipah virus: पिछले साल केरल में निपाह वायरस के कारण कई लोगों की मौत हो गई थी। एक बार फिर यह वायरल केरल के लोगों के लिए मौत का कारण बन गया है। केरल के एक युवक को निपाह होने की बात सामने आई है और इस बात की पुष्टि भी की जा चुकी है। निपाह वायरस का मामला सबसे पहले सिंगापुर और मलेशिया में सामने आया था। भारत में 2001 और 2007 में बंगाल के सिलीगुड़ी में निपाह वायरस ने अपना प्रकोप दिखाया था। यह एक ऐसा वायरस है तो जानवरों से फल और फलों से इंसान में फैलता है। यह वायरस सीधे इंसान के दिमाग को प्रभावित करता है। इसके अलावा यह वायरस एक इंसान से दूसरे इंसान में भी फैल सकता है। ऐसे में आप इस समस्या से खुद को सेफ रखने के लिए आप कुछ उपायों की मदद ले सकते हैं।

फल और सब्जी जरूर धोएं:
कोई भी फल या सब्जी खाने से पहले आप उसे जरूर धो लें। कोशिश करें कि उन्हें आप गर्म पानी से ही धोएं। ऐसा करने से बैक्टीरिया और वायरस नष्ट हो जाते हैं और किसी प्रकार का कोई भी इंफेक्शन होने का खतरा नहीं होता है।

साफ पानी पिएं:
पानी में भी वायरस होने का खतरा अधिक होता है। ऐसे में आपको प्यूरिफायड पानी ही पीना चाहिए। कुएं के पानी से खासकर दूरी बनाए रखनी चाहिए। कुएं के पानी में वायरस होने का खतरा अधिक होता है।

पीड़ित व्यक्ति से दूर रहें:
जैसे ही आपको इस बात की जानकारी हो जाए कि आप जिस व्यक्ति के आस-पास हैं वह इस वायरस के शिकार हैं तो आपको उनसे दूरी बना लेनी चाहिए क्योंकि यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है।

हाथ अच्छे से धोएं:
ही से भी आने के बाद आप कोशिश करें कि हाथ को हैंड वॉश से जरूर धोएं। हाथों में मौजूद बैक्टीरिया और वायरस आपके खाने के जरिए आपके शरीर में प्रवेश करता है जिससे आपको इंफेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है। तो कुछ भी खाने से पहले हाथ जरूर धोएं।

(और Health News पढ़ें)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 इस अजीब बीमारी का शिकार हो चुकी हैं Sushmita Sen, जा सकती थी जान
2 सेहत पर घातक असर डालता है ई-सिगरेट, डीएनए तक को पहुंचाता है नुकसान 
3 World No Tobacco Day: सिगरेट ही नहीं उसके अवशेष भी खतरनाक, होते हैं 250 जानलेवा केमिकल