ताज़ा खबर
 

डिप्रेशन और मानसिक स्वास्थ पर क्या सोचती हैं करिश्मा कपूर, जानिए

डिप्रेशन और एंग्जायटी उन मानसिक समस्याओं में से एक हैं जिनसे देशभर में बहुत से लोग जूझ रहे हैं लेकिन आज भी लोग इनके बारे में बात करने से कतराते हैं।

Author नई दिल्ली | November 12, 2018 12:29 PM
अभिनेत्री करिश्मा कपूर।

बी-टाउन के लोग आजकल लोगों में मानसिक स्वास्थ्य को लेकर जारुकता फैलाने में खासा योगदान दे रहे हैं। दीपिका पादुकोण और आलिया भट्ट की बहन शहीन भट्ट के डिप्रेशन के बारे में बात करने के बाद अब करिश्मा कपूर ने भी इसे टॉपिक पर अपने विचार व्यक्त किए हैं और करिश्मा का मानना है कि मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े मुद्दे जैसे डिप्रेशन और एंग्जायटी पर जागरुकता फैलनी चाहिए ताकि इनका सामना कर रहे लोग सही जानकारी पा सके। साथ ही उन्होंने कहा कि मानसिक स्वास्थ्य अब पहले की तरह वर्जित विषय नही रहा। लोग इसके बारे में बात कर रहे हैं।

27 सालों से इंडस्ट्री में रही बॉलीवुड की ‘बीवी नं-1’ का कहना है कि इस इंडस्ट्री में काम करने लिए एक्टर्स को बहुत सी परेशानियों से गुजरना पड़ता है इसलिए जरुरी है कि समाज में डिप्रेशन जैसी गंभीर समस्याओं के बारे में बात की जाए और खासतौर पर बच्चों को इसके बारे में शिक्षित किया जाए।

करिश्मा कपूर ने कहा, “मानसिक स्वाथ्य बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है। हम सभी इसके बारे में अच्छे से वाकिफ हैं और हमें अपने बच्चों को भी इस तरह की स्थितियों के बारे में जानकारी देनी चाहिए। लोग इन विषयों पर बात करने में शर्मिंदगी महसूस करते हैं और सोचते हैं कि यह एक बीमारी है। उन्हें डर है कि कही कोई उन्हें ‘पागल’ ना कह दे।”

View this post on Instagram

Awsome day shooting with sis

A post shared by kk (@therealkarishmakapoor) on

करिश्मा का मानना है कि दूसरे लोगों के साथ अपनी परेशानियां साझा करने से मदद मिलती है। इससे पहले दीपिका ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया था जिसमें उन्होंने स्वीकार किया था कि वो डिप्रेशन में रही थी साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की थी वो अपनी कहानी शेयर करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App