scorecardresearch

Uric Acid: पैरों में होने वाली ये तीन बीमारियां यूरिक एसिड हाई होने के हैं संकेत, जानिए कैसे करें बचाव

डाइट में प्यूरिन वाले फूड का सेवन करने से यूरिक एसिड का स्तर तेजी से बढ़ता है।

Uric Acid: पैरों में होने वाली ये तीन बीमारियां यूरिक एसिड हाई होने के हैं संकेत, जानिए कैसे करें बचाव
यूरिक एसिड बढ़ने से पैरों के तलवों पर सूजन आ सकती है। photo-freepik

यूरिक एसिड बॉडी में बनने वाले टॉक्सिन हैं जो सभी की बॉडी में बनते हैं और यूरिन के द्वारा बॉडी से बाहर भी निकल जाते हैं। यूरिक एसिड का स्तर तब हाई होता है जब किडनी यूरिक एसिड को बॉडी से बाहर निकालना बंद कर देती है। बॉडी में यूरिक एसिड बढ़ने के लिए कई कारण जिम्मेदार हैं जैसे प्यूरिन डाइट का अधिक सेवन, बढ़ता मोटापा, क्रॉनिक बीमारियां जैसे शुगर, यूरिन की दवाईयों का सेवन करने से और बहुत ज्यादा शराब का सेवन करने से बॉडी में यूरिक एसिड का स्तर हाई होने लगता है। बॉडी में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने पर हाथ-पैरों के जोड़ों में दर्द रहता है।

जब शरीर में बहुत अधिक यूरिक एसिड बढ़ने लगता है तो हाइपरयूरिसीमिया नामक स्थिति उत्पन्न हो जाएगी जिसके कारण यूरिक एसिड के क्रिस्टल बन सकते हैं। ये क्रिस्टल जोड़ों में जमा हो सकते हैं और गठिया का कारण बन सकते हैं। यूरिक एसिड बढ़ने से किडनी में पथरी की भी शिकायत हो सकती है। बॉडी में 6.8 मिलीग्राम/डीएल यूरिक एसिड की नॉर्मल रेंज है लेकिन इससे ज्यादा यूरिक एसिड परेशानी का कारण बनता है। जिन लोगों का यूरिक एसिड हाई होता है उनके पैरों में तीन बीमारियां होने लगती है। आइए जानते हैं कि यूरिक एसिड बढ़ने से पैरों में कौन सी तीन बीमारियां होती है और उसका उपचार कैसे करें।

यूरिक एसिड हाई होने पर पैरों में होने वाली ये तीन बीमारियां:

  1. यूरिक एसिड हाई होने पर पैरों में स्टिफनेस बढ़ने लगती है जिसकी वजह से उठना- बैठना और चलना-फिरना मुश्किल होता है।

2. पैरों के टखनों, जोड़ों और तलवों में दर्द होना यूरिक एसिड हाई होने के संकेत हैं। सर्द मौसम में ये दर्द ज्यादा परेशान करता है।

3. पैरों में सूजन होना भी यूरिक एसिड हाई होने के संकेत हैं।

यूरिक एसिड हाई रहता है तो इन उपायों से करें उसे कंट्रोल:

  • यूरिक एसिड को कंट्रोल करना चाहते हैं तो प्यूरिन से भरपूर फूड्स से परहेज करें। उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थ, जैसे बेकन, डेयरी उत्पाद, और लाल मांस, वील सहित रूट, टूना, हैडॉक, सार्डिन, एन्कोवीज,बीयर और शराब का ज्यादा सेवन करने से यूरिक एसिड बढ़ता है इनसे परहेज करें। यूरिक एसिड कंट्रोल करने के लिए ऐसे फूड्स का सेवन करें जिनमें प्रोटीन की कम मात्रा मौजूद हो।
  • वजन को कंट्रोल करें। बढ़ता वजन ना सिर्फ डायबिटीज और ब्लड प्रेशर का मरीज बनाता है बल्कि यूरिक एसिड भी बढ़ाता है।
  • एल्कोहल और शुगर वाले ड्रिंक का सेवन करने से परहेज करें।
  • डाइट में कॉफी का सेवन करें। काफी गाउट का कारण नहीं होती।
  • डाइट में विटामिन सी वाले फूड्स का सेवन करें। विटामिन सी का सेवन इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाता है और बॉडी को हेल्दी रखता है।
  • यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए चेरी का सेवन करें।

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 28-09-2022 at 03:43:59 pm
अपडेट