Blood Sugar को कंट्रोल करने में रामबाण से कम नहीं ये मसाले, जानिये

सौंफ में मौजूद फाइटोकेमिकल्स तत्व शरीर में इंसुलिन रेसिस्टेंट की परेशानी को कम करता है, जिससे बॉडी में इंसुलिन की मात्रा बढ़ती है।

blood Sugar Level, Diabetes, Spices To Control Blood Sugar
हल्दी और मेथी कर सकते हैं ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल (फोटो क्रेडिट- Thinkstock Images)

डायबिटीज के मरीजों के लिए अपना ब्लड शुगर लेवल काबू में रखना बेहद ही आवश्यक होता है। क्योंकि अनियंत्रित ब्लड शुगर के कारण कई तरह की स्वास्थ्य परेशानियां हो सकती हैं। बॉडी में रक्त शर्करा का स्तर बढ़ने से गुर्दे खराब होना, हार्ट अटैक, ब्रेन स्ट्रोक और मल्टीपल ऑर्गन फेलियर जैसी जानलेवा स्थिति का खतरा भी बढ़ जाता है। बता दें कि हाई ब्लड शुगर को मेडिकल भाषा में हाइपरग्लाइसेमिया कहा जाता है। एक्सपर्ट्स की मानें तो टाइप 2 डायबिटीज के मरीज हेल्दी डाइट और लाइफस्टाइल में बदलाव करके खून में ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित रख सकते हैं।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ मधुमेह के रोगियों को अधिक ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थों का सेवन ना करने की सलाह देते हैं, क्योंकि इनके कारण रक्त शर्करा का स्तर बढ़ सकता है। हाल ही में न्यूट्रिशनिस्ट नमामि अग्रवाल ने किचन के कुछ मसालों के बारे में जिक्र किया है, जिनके जरिए ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित किया जा सकता है।

औषधीय गुणों से भरपूर और भारतीय किचन में पाए जाने वाले मसाले ना सिर्फ खाने के स्वाद को बढ़ाते हैं बल्कि कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं से भी आपका बचाव करते हैं। डायबिटीज के मरीज अपनी डाइट में इन मसालों को शामिल करने की सलाह देते हैं।

हल्दी: एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर हल्दी में करक्यूमिन तत्व मौजूद होता है। मधुमेह के रोगी हल्दी को अपनी डाइट में अलग-अलग तरीकों से शामिल कर सकते हैं। इससे ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

दालचीनी: दालचीनी में कई तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुणों के साथ ही एंटी-वायरल, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण भी मौजूद होते हैं। दालचीनी में चालकोन पॉलीमर भी मौजूद होता है, जो खून में ग्लोकूज के स्तर को काबू में रखता है।

सौंफ: सौंफ में मौजूद फाइटोकेमिकल्स तत्व शरीर में इंसुलिन रेसिस्टेंट की परेशानी को कम करता है, जिससे बॉडी में इंसुलिन की मात्रा बढ़ती है। सौंफ खून को डिटॉक्सिफाइंग कर, उसे साफ करने में मदद करता है। आप अपनी डाइट में सौंफ को शामिल कर सकते हैं। आप चाहें तो सौंफ से बनी चाय भी पी सकते हैं।

काले चने: डायबिटीज के रोगियों के लिए काले चने का सेवन करना फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके लिए 2 मुट्ठी काले चने को रात के समय भिगोकर रख दें। फिर सुबह उठकर काले चने और उसके पानी के सेवन करें। इससे ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहने में मदद मिलती है।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।